...क्या हुआ जब स्कूल टीचर निकली पोर्न स्टार?

...क्या हुआ जब स्कूल टीचर निकली पोर्न स्टार?

By: | Updated: 01 Jan 1970 12:00 AM

नई दिल्ली: जरा सोचिए कि अगर किसी धार्मिक स्कूल में पढ़ाने वाली टीचर का पार्ट टाइम में पोर्नोग्राफी का पेशा हो औऱ वो भी एक, दो नहीं बल्कि पूरे 17 सालों से तो इसकी हकीकत जानने के बाद आप क्या एक्शन लेंगे?

 

मिरर में छपी खबर के मुताबिक एक धार्मिक स्कूल में पढ़ाने वाली टीचर के असली पेशे का पता चलने के बाद स्कूल प्रशासन में खलबली मच गई हालांकि उस महिला का इस खुलासे के बाद भी यही कहना था कि वह धार्मिक मान्यताओं का प्रचार कर रही है.

 

आपको बता दें कि 38 साल की जूलिया पिंक एक धार्मिक स्कूल में अक्षम बच्चों और युवाओं को पढ़ाने का काम करती थी लेकिन एक अवार्ड मिलने के बाद वह चर्चा में आ गई और इसके चलते उसकी पोल खुल गई हालांकि इस दौरान उसने पोर्न स्टार के तौर पर काम जारी रखा.

 

दरअसल म्यूनिख में एक कंपनी के साथ 17 सालों से पोर्नोग्राफी का पेशा करने वाली इस टीचर की इस करतूत का भंडाफोड़ तब हुआ जब उसे वीनस पोर्न फेयर में 'शूटिंग स्टार' अवार्ड दिया गया.

 

टीचर के कुछ वीडियो सामने आने के बाद पता चला कि असल में वह एक पोर्न स्टार है हालांकि मामला सामने आने के बाद चर्च ने आरोपी टीचर को बिना किसी नोटिस के नौकरी से निकाल दिया.

 

चर्च के प्रवक्ता ने बताया कि महिला का दूसरा पेशा उनके धर्म के संदेश से मेल नहीं खाता, इसलिए उसे टीटर की नौकरी से निकाल दिया गया.

 

हालांकि टीचर ने इसके खिलाफ कोर्ट में अपील की, जिस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि बिना नोटिस के उसे बाहर किया जाना गलत है लेकिन जिस वजह से उसे हटाया गया है वह सही है.

 

फैसला सुनाते हुए जज ने कहा कि टीचर कई सालों से पोर्नोग्राफी से जुड़ी हुई है और उसका ये काम चर्च के नियमों के खिलाफ है. ऐसे में उसका हटाया जाना ठीक है.कोर्ट के फैसले के बाद टीचर ने कहा कि वह पोर्न फिल्में करती है इसका ये मतलब नहीं है कि वह बच्चों को पढ़ा नहीं सकती और धर्म का प्रचार नहीं कर सकती.

 

वहीं महिला से अपने बच्चों को पढ़ाने वाले एक दंपति ने स्कूल प्रशासन के इस फैसले का विराध करते हुए कहा कि बहुत से लोग पोर्न फिल्में देखते हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि वे अपने बच्चों की परवरिश नहीं करते. इसलिए टीचर को निकाला जाना गलत है. इस मामले में पोर्न स्टार ने कहा है कि वह अदालत के फैसले के खिलाफ अपील करेगी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मुंबई के नौजवान ने घर की छत पर बनाया प्लेन, अब सरकारी सर्टिफिकेट भी मिला