जानें पुरुष और महिलाओं में कब बढ़ जाती है सेक्स की चाह?

By: | Last Updated: Thursday, 5 March 2015 12:18 PM

नई दिल्ली: अक्सर हम अपने समाज में देखते हैं कि लोग सेक्स पर बात करने से कतराते हैं. लेकिन यह सच है कि सुखद जीवन के लिए सुखद सेक्स लाइफ का होना बेहद ही जरूरी है.

 

सेक्स भी आम जीवन में उसी तरह से जरूरी है जिस तरह से सोना, खाना और दैनिक कार्य करना. हमारे समाज में कई परिवार ऐसे हैं जिनका वैवाहिक जीवन इस वजह से नर्क हो गया क्योंकि उनकी सेक्स लाइफ सही नहीं चल रही थी.

 

इसका सबसे बड़ा कारण है कि हमे सेक्स की बॉयोलोजिकल जानकारी बेहद कम होती है. हम में से कई लोग यह नहीं जानते हैं कि सेक्स करने का सही वक्त क्या है?

 

हाल ही में अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन के एक रिसर्च में यह बात सामने आई है कि पुरूष सुबह के वक्त सेक्स करने में ज्यादा दिलचस्पी दिखाते हैं जबकि इसके उलट महिलाओं का मिजाज रात में रोमांटिक ज्यादा होता है.

 

रिसर्चर्स के मुताबिक यह सब हॉर्मोन्स की वजह से होता है. रात को महिलाएं जब ज्यादा रोमांटिक होती हैं तब पुरुष या तो सो जाता है या फिर उतना दिलचस्पी नहीं दिखाता जितना दिखाना चाहिए.

 

यही हाल सुबह में महिलाओं का होता है. उस वक्त पुरूष ज्यादा रोमांटिक होता है जबकि महिलाएं नहीं. रिसर्चर्स के मुताबिक सूबह 5 से 7 के बीच पुरूषों में टेस्टेस्टेरोन का लेवल हाई होता जिस वजह से पुरूष का मन उस वक्त सेक्स के लिए ज्यादा चंचल होता है.

 

सुबह के वक्त पुरुषों में बाकी घंटों के मुकाबले सेक्स हॉर्मोन 25 से 50 फीसदी अधिक बनते हैं. महिलाओं में भी टेस्टेस्टेरोन ही बनता है, लेकिन एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन के कारण बैलेंस में रहता है. महिलाओं में इसका लेवल रात के समय बढ़ता है जिस वजह से उन्हें रात के समय सेक्स करना ज्यादा भाता है.

 

रिसर्च में यह बात भी सामने आई है कि पुरुष जितना ज्यादा गहरी नींद लेते हैं उनमें टेस्टेस्टेरोन की मात्रा उतना ही अधिक बनता है. अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन के इस रिसर्च के अनुसार 5 घंटे से ज्यादा सोने पर पुरुषों में टेस्टेस्टेरोन की मात्रा 15 फीसदी बढ़ सकती है.

 

रिसर्च के मुताबिक सोकर उठने पर पुरुषों में सेक्स की चाह ज्यादा होती है जबकि इसके उलट महिलाओं में बेहद ही कम. रिसर्च में यह बात भी सामने आई है कि शाम के 6 बजे के बाद पुरुषों में टेस्टेस्टेरोन की मात्रा गिरने लगती है जबकि महिलाओं में सेक्स हॉर्मोन्स बढ़ने लगते हैं.

 

शाम के बाद से महिलाओं में 30 प्रतिशत ज्यादा सेक्स की चाह बढ़ जाती है. सबसे गौर करने वाली बात जो इस रिसर्च में सामने आई है वह यह है कि ऑफिस में काम की टेंशन की वजह से पुरुषों में टेस्टेस्टेरोन की मात्रा घट जाती है वहीं खेल में पसंदीदा टीम के जीत के बाद टेस्टेस्टेरोन 20 फीसदी तक बढ़ जाते हैं.

 

यह भी पढ़ें-

सेक्स कॉमेडी फिल्म है ‘कुछ कुछ लोचा है’

‘फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे’: छात्र पर ऐसा चढ़ा फिल्म का नशा कि…!

दिन में 3-4 बार सेक्स करने में नाकाम हुआ पति तो पत्नी ने की तलाक की मांग!

भ्रष्टाचार के दायरे में सेक्सुअल फेवर भी आएगा 

Ajab Gajzab News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: sex_men_women_research_american medical association_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017