...जब तेंदुए के पंजे पर भारी पड़ी चौकीदार की लाठी!

By: | Last Updated: Wednesday, 29 April 2015 12:31 PM
Video: Brave watchman fights off leopard with just a stick in Madhya Pradesh village

नई दिल्ली: जरा सोचिए कि अगर आप सुनसान जगह पर खड़े हैं. आपके पास सिर्फ एक लाठी (डंडा) है और उसी समय एक खुंखार तेंदुआ तेजी से आपकी ओर भागते हुए आए और आप पर हमला कर दें तो आप क्या करेंगे?

 

उस समय तेंदुए के रूप में अपने सामने खड़ी मौत को देखकर शायद आप भगवान को याद करने के अलावा कुछ और नहीं कर पाएं लेकिन मध्यप्रदेश के मानपुर के जंगल में वन विभाग के एक चौकीदार ने ऐसी ही परिस्थिति में कुछ ऐसा कर दिखाया जिसे जानकर आप हैरान हो जाएंगे.

 

जी हां! इंदौर के पास मानपुर के जंगल में वन विभाग के एक चौकीदार ने एक लाठी की मदद से हमला करने आए तेंदुए से जमकर मुकाबला ही नहीं किया, बल्कि अपनी लाठी के दम पर उसे भागने पर मजबूर कर दिया.

 

आपको बता दें कि इस बहादुर चौकीदार का तेंदुए के साथ हुए मुकाबले का वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. करीब 45 सेकेंड के इस वीडियो में आप साफ देख सकते हैं कि कैसे एक खुंखार तेंदुए के पंजे पर भारी पड़ी चौकीदार की लाठी!

 

दरअसल हुआ कुछ यूं कि मध्यप्रदेश के ओलानी में सूखे तालाब के कुएं के पास झाड़ियों में एक तेंदुए के छिपे होने की खबर मिलने पर वन विभाग के रेंजर मौके पर पहुंचे तो वहां लोग झाड़ियों के एक ओर बड़ी संख्या में जमा होकर शोर मचाते हुए पत्थर फेंक रहे थे.

 

तेंदुआ झाड़ियों के बीच में दुबका हुआ था और गुर्रा रहा था. इसी बीच मौका पाकर तेंदुआ दौड़कर सुनसान इलाके की ओर भागा. तेंदुए के छलांग लगाते ही भगदड़ मच गई.

 

ग्रामीण को छोड़कर आक्रामक तेंदुआ वन विभाग के चौकीदार बालाराम की ओर गुर्राता हुआ दौड़ा. अचानक तेंदुआ को अपनी ओर आता देख बालाराम इधर-उधर देखने लगे. तेंदुआ पास आकर कुछ देर रुका और उन पर हमला करने की तैयारी करने लगा.

 

बालाराम को पास में एक लाठी पड़ी दिखी. लाठी को ही हथियार बनाते हुए बालाराम तेंदुए से दो-दो हाथ करने के लिए तैयार हो गए. पहले बालाराम ने ज़मीन पर लाठियां बरसाकर उसे भगाने की कोशिश की लेकिन भागने की जगह तेंदुए ने उन पर हमला कर दिया.

 

हमला होता देख तेंदुआ और अधिक आक्रामक हो गया और गुस्से में आकर उसने बालाराम के पैर पर हमलाकर उन्हें जकड़ लिया. अचानक हुए इस हमले से बालाराम नीचे गिर पड़े. नीचे गिरने के बाद भी उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और तेंदुए से मुकाबला जारी रखा.

 

अंत में बालाराम की दिलेरी और उनकी लाठी तेंदुए के पंजे पर भारी पड़ी और आखिर में तेंदुआ वहां से भाग निकला. आपको बता दें कि घायल बालाराम को अस्पताल से प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है. हालांकि इस घटना की सूचना मिलते ही इंदौर से रेस्क्यू दल भी रवाना हो गया था लेकिन तेंदुए के जंगल में चले जाने की सूचना देकर उन्हें लौटा दिया गया.

 

यहां देंखे वीडियो: