...जब तीन महिलाओं ने की एक पुरुष के साथ दिल दहलाने वाली हैवानियत!

By: | Last Updated: Tuesday, 24 March 2015 8:55 AM
Women_tortured_man_cigarette lighter_Reservoir Dogs

नई दिल्ली: वैसे तो आपने आज तक पुरुषों के द्वारा महिलाओं पर की जाने वाली हैवानियत की तमाम घटनाओं के बारे में देखा और सुना होगा लेकिन क्या आपने कभी कई महिलाओं के द्वारा एक साथ किसी पुरुष पर दिल दहला देने वाली हैवानियत की घटना के बारे में सुना है.

 

शायद आपका जवाब होगा नहीं लेकिन पोर्टलैंड में हाल ही में एक ऐसी ही घटना देखने को मिली जहां तीन महिलाओं ने मिलकर एक पुरुष के साथ जो किया उसे जानकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे.

 

जी हां! डेली मेल में छपी एक खबर के अनुसार पोर्टलैंड के स्कारबोरो में ‘रेजरवॉयर डॉग्स’ फिल्म देखने के बाद यहां रहने वाली तीन महिलाओं ने पहले तो एक शख्स को बहाने से घर के अंदर बुलाया और फिर उसके साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर दी.

 

आपको बता दें कि तीनों महिलाओं ने पहले तो पीड़ित के शरीर को सिगरेट से जलाया और फिर पिज्जा कटर से उसके अंगों को काटने की कोशिश की. केवल इतना ही नहीं उन्होंने लोहे का गरम चिमटा भी उसके प्राइवेट पार्ट्स में डालने की कोशिश की.

 

खबरों की मानें तो लॉरेनी एर्लेस (47), नैटली लिली (19) और लीया वाइट (22) नाम की इन महिलाओं ने पीड़ित शख्स के साथ ऐसा बर्ताव उससे बदला लेने के लिए किया और उनके इस घिनौने काम में उनके एक पुरुष सहयोगी ब्रेंडन टेल (27) ने उनका साथ दिया.

 

दरअसल महिलाओ का आरोप है कि पीड़ित शख्स कई महिलाओं को बुरी नजर से देख रहा था और उनके साथ मौज मस्ती कर रहा था और ये बात उन्हें काफी बुरी लगी हालांकि उनकी इस करतूत का पता चलने के बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया.

 

आपको बता दें कि उन्होंने उस पीड़ित शख्स को लालच देकर पहले घर के अंदर बुलाया और फिर उसे एक कुर्सी से बांध दिया. इसके बाद चारों ने उसे जमकर पीटा और जबरन उसे लिक्विड वाश पिला दिया. केवल इतना ही नहीं इसके बाद उन्होंने उसके प्राइवेट पार्ट्स पर गरम चिमटा तक डाल दिया.

 

आप यह जानकर हैरान हो जाएंगे कि जब इन महिलाओं को इतने से संतुष्टी नहीं मिली तो उन्होंने उसे जलती सिगरेट से भी दागा और पिज्जा कटर से उसके गाल काटने की कोशिश की.

 

आपको बता दें कि यॉर्क क्राउन कोर्ट में सुनवाई के दौरान बताया गया कि एर्ले ने पहले पीड़ित के कान में जोरों से काटा और फिर उसका सिर झुकाकर घुटनों के बीच रखवा दिया.उसने पीड़ित के गले में एक रुमाल लपेट कर उसे जान से मारने की भी धमकी दी. केवल इतना ही नहीं उन्होंने फिल्म के दृश्य को पीड़ित पर बार-बार दोहराने की कोशिश की.

 

बाद में पीड़ित जब किसी तरह घर पहुंचा और अपनी कहानी सुनाई तो उसकी सौतेली मां ने पुलिस को फोन करके इसकी शिकायत की, जिसके बाद चारों को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस पूछताछ के दौरान सभी ने एक दूसरे के सिर आरोप मढ़ने की कोशिश की लेकिन एर्ले और टेल को इस कांड का मुख्य आरोपी माना गया.

 

पुलिस ने अदालत को बताया कि पीड़ित शख्स के साथ वाइट के संबंध थे. लिली एक बच्चे का मां है और इस वारदात के पहले उस पर कोई भी आरोप नहीं लगा. हालांकि टेल के वकील ने कोर्ट में कहा कि उनके मुवक्किल ने पीड़ित को घर में सबक सिखाने के लिए बुलाया था, लेकिन इस पूरे घटनाक्रम की असल मास्टरमाइंड एर्ले है.

 

वहीं एर्ले की वकील ने कहा कि वह मानसिक परेशानी से गुजर रही है और उसे टेल ने भड़काया था. जबकि वाइट के वकील ने कहा कि वह इस पूरे मामले से दूर थी और दूसरों के कहने पर ही उसने कुछ किया है. सुनवाई के बाद कोर्ट ने एर्ले को जेल की सजा से मुक्त कर दिया क्योंकि वह पांच महीने पहले ही जेल में बिता चुकी है.

 

आपको बता दें कि कोर्ट ने एर्ले को 2 साल तक कम्युनिटी सर्विस की सजा दी है और टेल को 12 महीने जेल की सजा सुनाई जबकि लिली और वाइट को भी दो साल तक कम्युनिटी सर्विस की सजा मिली.

Ajab Gajzab News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Women_tortured_man_cigarette lighter_Reservoir Dogs
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: cigarette Man tortured Women
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017