किस बहुत बड़ी कामयाबी की तरफ धीरे धीरे कदम बढ़ा रही है टीम इंडिया?

किस बहुत बड़ी कामयाबी की तरफ धीरे धीरे कदम बढ़ा रही है टीम इंडिया?

By: | Updated: 10 Oct 2017 03:40 PM

BY: शिवेन्द्र कुमार सिंह, वरिष्ठ खेल पत्रकार

आज भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा टी-20 मैच है. जो अब से कुछ ही घंटों बाद खेला जाएगा. गुवाहाटी के बारसापाड़ा स्टेडियम में ये पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच है. गुवाहाटी ने इससे पहले भी अंतर्राष्ट्रीय मैचों की मेजबानी की है लेकिन इस स्टेडियम में ये पहला मैच है. टी-20 क्रिकेट के लिए ये कहना तो अब जरूरी ही नहीं रहा है कि पिच बल्लेबाजों के मुफीद बनाई गई है क्योंकि ये तो एक तरह का नियम बन चुका है. 


इस सीरीज में भारतीय टीम बारिश से प्रभावित पहला मैच 9 विकेट के बड़े अंतर से जीत चुकी है. तीन मैचों की सीरीज में उसके पास 1-0 की बढ़त है. आज का मैच जीतकर वो वनडे सीरीज के बाद टी-20 सीरीज पर भी कब्जा कर लेगी. 


इन सारी उपलब्धियों के साथ साथ एक और बड़ी उपबल्धि है जिस पर टीम इंडिया की नजर है. टीम के कप्तान विराट कोहली की नजर है. वो उपलब्धि है इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आईसीसी की टी-20 की रैंकिंग्स में पहले पायदान पर काबिज होगा. यूं तो खिलाड़ियों से अगर रैंकिंग्स को लेकर सवाल पूछा जाए तो वो हमेशा एक ही जवाब देते हैं कि उन्हें अच्छे प्रदर्शन की फिक्र रहती है ना कि रैंकिंग्स की, लेकिन इस तथ्य से शायद ही कोई इंकार करेगा कि पिछले करीब एक दशक में रैंकिंग्स का ‘क्रेज’ बढ़ा है. 


इससे टीम और खिलाड़ियों की साख और काबिलियत का पता चलता है. ऐसे में अगर टीम इंडिया ऐसा करने में कामयाब हो जाती है तो वो टेस्ट, वनडे और टी-20 तीनों फॉर्मेट में दुनिया की नंबर एक टीम बन जाएगी. जो निश्चित तौर पर बहुत बड़ी कामयाबी है.    


क्या कहता है रैंकिंग्स का गणित


आईसीसी की मौजूदा टेस्ट रैंकिंग्स में भारतीय टीम पहले पायदान पर है. टीम इंडिया के खाते में 125 रेटिंग प्वाइंट हैं. दूसरे नंबर की टीम दक्षिण अफ्रीका के मुकाबले टीम इंडिया के पास 15 अंक ज्यादा हैं. टेस्ट क्रिकेट की तरह ही वनडे में भी टीम इंडिया पहले नंबर की टीम है. उसके पास 120 रेटिंग प्वाइंट हैं. यहां दूसरे नंबर की टीम से उसकी बढ़त सिर्फ एक नंबर की है. दक्षिण अफ्रीका 119 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर है. 


टेस्ट और वनडे के मुकाबले टी-20 फॉर्मेट में कहानी काफी अलग है. आईसीसी रैंकिंग में टीम इंडिया फिलहाल 5वें नंबर पर है. टीम इंडिया के खाते में 116 रेटिंग अंक हैं. रैंकिग्स में पहले नंबर की टीम न्यूज़ीलैंड से 9 प्वाइंट कम. भारत को इसी अंतर को कम करना है. न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, वेस्टइंडीज और इंग्लैंड की टीमें पहले से लेकर चौथे पायदान पर काबिज हैं. न्यूजीलैंड के पास 125, पाकिस्तान के पास 121, वेस्टइंडीज के 120 और इंग्लैंड के 119 रेटिंग प्वाइंट हैं. 



लगातार तीन मैच जीतो और बनो नंबर-एक


टीम इंडिया अगर आज का टी-20 मैच जीत जाती है तो उसे रैंकिंग्स में फायदा मिलना शुरू हो जाएगा. आज का मैच जीतते ही उसके पास 120 रेटिंग प्वाइंट हो जाएंगे और वो पांचवे की बजाए तीसरे पायदान पर आ जाएगी. अगर टीम इंडिया ने 13 अक्टूबर को हैदराबाद में होने वाले टी-20 सीरीज के तीसरे मैच में जीत दर्ज कर ली तो उसके खाते में 122 प्वाइंट हो जाएंगे और वो दूसरे पायदान पर आ जाएगी. 


हालांकि विराट कोहली और टीम इंडिया की निगाहें पहले पायदान पर होंगी. जहां पहुंचने के लिए उसे ना सिर्फ कंगारुओं का ‘व्हाइटवाश’ करना होगा बल्कि ऑस्ट्रेलिया के बाद न्यूज़ीलैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज का पहला मैच जीतना होगा. आसान तरीके से आपको समझाएं तो अगर भारतीय टीम आज और आज के बाद दो और टी-20 मैच लगातार जीत लेती है तो क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट की बेताज बादशाह होगी. 


टीम इंडिया के हालिया फ़ॉर्म को देखकर उम्मीदें बढ़ गई हैं. वनडे सीरीज में भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन कर ऑस्ट्रेलिया को 4-1 से हराया. टी-20 के भी पिछले मैच में भारतीय टीम ने कंगारूओं को दबोच कर ही रखा. डेविड वॉर्नर और ग्लेन मैक्सवेल समेत ऑस्ट्रेलिया के बड़े धुरंधर बल्लेबाज इस सीरीज में औसत प्रदर्शन ही कर पाए हैं. दूसरी तरफ टीम इंडिया में हर मैच में एक नया हीरो निकलकर सामने आ रहा है. भारतीय टीम को बस दुआ इस बात की करनी है कि मैच में बारिश बाधा ना डाल पाए.


फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Cricket News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story एक फेल तो सब फेल, टीम इंडिया को बस इस सोच से बाहर निकलना होगा