केजरीवाल हैं कच्चे खिलाड़ी, मोदी बनें देशके पीएम: प्रीति जिंटा

By: | Last Updated: Friday, 2 May 2014 5:03 AM
केजरीवाल हैं कच्चे खिलाड़ी, मोदी बनें देशके पीएम: प्रीति  जिंटा

नई दिल्ली: बॉलीवुड अभिनेत्री प्रीति जिंटा पर भी भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का जादू चल गया है. चुनावी मौसम में फिल्मी सितारे भी नेताओं के चुनाव प्रचार में पीछे नहीं है और बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं. लेकिन अब बॉलीवुड अभिनेत्री प्रीति जिंटा ने भी मोदी का समर्थन किया है.

 

बनारस पहुंची प्रीति जिंटा ने कहा कि, ”सात साल पहले मैंने कहा था कि मोदी को देश का प्रधानमंत्री बनना चाहिए, लोग उन्हें प्यार करते हैं.”

 

आम आदमी पार्टी के बारे में पूछने पर प्रीति ने कहा कि उन्हें आम आदमी पार्टी पसंद है लेकिन अभी उन्हें समय की जरूरत है, जरूरी यह है कि वे पहले ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतें.

Said 7 years back that Modi should be PM,ppl love him.Yes,like AAP but they need time,imp they win seats-Preity Zinta pic.twitter.com/yFOA9hGJ7f

— ANI (@ANI_news) May 2, 2014

हाल ही में विवेक ओबेरॉय, मधुर भंडारकर, सलमान खान जैसे कई नेताओं ने भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के समर्थन में आगे आए थे.

 

इससे पहले प्रीति ने अपने ट्विटर अकाउंट पर भी मोदी की तरीफ की थी.

Its amazing how every 1is discussing Mr. Modi. After a long time there’s such curiosity4 one Man. Hope he can live up2 all the expectations!

— Preity zinta (@realpreityzinta) May 2, 2014

मीडिया में आईं मोदी के समर्थन की बातों को प्रीति ने इसके बाद यह कहते हुए ट्वीट किया कि वह कभी किसी के लिए प्रचार नहीं करतीं. यह उनकी निजी ट्रिप है.

Don’t campaign 4any political party ever! Its a personal trip. Media found me and started asking me all KBC questions ! Hahahahha !

— Preity zinta (@realpreityzinta) May 2, 2014

 

अभिनेत्री प्रीति जिंटा आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल को राजनीति का कच्चा खिलाड़ी मानती हैं और उनका कहना है कि केजरीवाल क्या करना चाहते हैं, शायद वह खुद नहीं जानते. प्रीति इन दिनों वाराणसी में हैं, उन्होंने कहा, “केजरीवाल एक ही दिन में सबकुछ कर लेना चाहते हैं, यह तो मुमकिन नहीं है. दिल्ली की जनता ने उनको मुख्यमंत्री चुना था तो उनको कुछ काम करना चाहिए था. पीठ दिखाकर भागना ठीक नहीं है.”