कैंपा कोला: गुहार के बीच शुक्रवार को नहीं हो सकी कार्रवाई, अब इंतज़ार शनिवार का है

By: | Last Updated: Friday, 20 June 2014 2:50 PM
कैंपा कोला: गुहार के बीच शुक्रवार को नहीं हो सकी कार्रवाई, अब इंतज़ार शनिवार का है

मुंबई: कैंपा कोला सोसायटी के अवैध फ्लैटों पर बीएमसी का दस्ता शुक्रवार को कार्रवाई नहीं कर सका. सोसायटी के लोगों ने दिनभर गेट बंद रखा और फ्लैट नहीं तोड़ने की गुहार करते रहे.

 

लेकिन बीएमसी का दस्ता उन्हें लगातार कोर्ट के आदेश का हवाला देता रहा. अब देखना ये है कि शनिवार को कैंपाकोला सोसायटी पर कार्रवाई के लिए बीएमसी दस्ता क्या रणनीति अपनाता है.

 

दिनभर चले हाईवोल्टेज ड्रामे के बीच मुंबई के कैंपा कोला सोसायटी के अवैध फ्लैटों को एक दिन का जीवनदान और मिल गया. शुक्रवार सुबह कार्रवाई के लिए वहां पहुंचा बीएमसी दस्ता शाम को बैरंग लौट गया. इस ताकीद के साथ कि कल हम फिर आएंगे.

 

बीएमसी ने कैंपाकोला सोसायटी में कार्रवाई के लिए 20 जून की तारीख तय की थी. संकट को टालने के लिए सोसायटी के लोग हवन-पूजन करते दिखे.

 

क्या हुआ दिनभर!

 

सुबह 10 बजे बीएमसी का दस्ता पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंचा, तो कैंपाकोला सोसायटी का गेट बंद कर लोग विरोध पर उतारू हो गए.

 

इंसाफ दो…इंसाफ दो के नारे से कैंपाकोला गूंज उठा. आवाज़ आई ‘आदर्श जैसी बिल्डिंगें खड़ी हैं…हमें आम आदमी होने की सजा दी जा रही है.’

 

एक ने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट ने चव्हाण सरकार को रास्ता निकालने के लिए छह महीने पहले कहा…लेकिन सरकार ने कुछ नहीं किया.’

 

जब इन नारों और गुस्से से बात नहीं बनी तो कैंपा कोला सोसायटी के लोग राज्य सरकार से सुध लेने की गुहार लगाने लगे.

 

महाराष्ट्र की कांग्रेस-एनसीपी सरकार अपनी सफाई में कह रही है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश ने उनका हाथ बांध रखा है, लेकिन विपक्षी बीजेपी इसे महज सरकार की बहानेबाजी बता रही है.

 

अब इंतजार है….

 

इंतजार अब शनिवार का है. शुक्रवार की रात जहां कैंपा-कोला सोसायटी के लोगों के लिए भारी है, वहीं बीएमसी के लिए बड़ी चुनौती ये है कि मुसीबत के मारे इन लोगों के खिलाफ ताकत आज़माने से किस तरह बचा जा सके.

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: कैंपा कोला: गुहार के बीच शुक्रवार को नहीं हो सकी कार्रवाई, अब इंतज़ार शनिवार का है
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017