ठहर जा ओ जाने वाले...मशहूर गायक मन्ना डे नहीं रहे!

By: | Last Updated: Wednesday, 23 October 2013 8:35 PM
ठहर जा ओ जाने वाले…मशहूर गायक मन्ना डे नहीं रहे!

<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b><b></b></b><br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”></p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>नई दिल्ली: </b>मशहूर गायक
मन्ना डे का निधन हो गया है.
बैंगलोर के नारायण हृदयालय
अस्पताल में सुबह 3.50 बजे
मन्ना डे ने आखिरी सांस ली. 
वह 94 साल के थे. हिंदी समेत कई
भाषाओं में मन्ना डे ने करीब
3500 गाने गाए. पिछले कुछ महीनों
से उनकी तबियत खराब चल रही थी.<br /><br /><a
href=”http://abpnews.newsbullet.in/photos/movies/57749-2013-10-24-02-51-49″>तस्वीरें:
अलविदा मन्ना डे: ‘वो प्यार का
सागर था’ </a><br /><br />अस्पताल के एक
वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया कि
मन्ना डे को पांच माह पहले
सांस संबंधी समस्याओं की वजह
से नारायण हृदयालय में भर्ती
कराया गया था. उन्होंने आज
तड़के तीन बज कर करीब 50 मिनट
पर अंतिम सांस ली.<br /><br />उनके
परिवार के सदस्यों ने बताया
कि अंतिम समय में मन्ना डे के
पास उनकी पुत्री शुमिता देव
और उनके दामाद ज्ञानरंजन देव
मौजूद थे. मन्ना डे की दो
बेटियां हैं. एक बेटी अमेरिका
में रहती है.<br /><br /><a
href=”http://abpnews.newsbullet.in/photos/movies/57753-2013-10-24-04-30-18″>परिवार
के साथ मन्ना डे की कुछ
अनदेखी तस्वीरें</a><br /><br />उनके
दामाद ने बताया ‘‘उनके निधन
से हम सब बेहद दुखी हैं. अंतिम
समय में उन्हें कोई तकलीफ
नहीं हुई. उनका अंतिम संस्कार
आज दिन में किया जाएगा.’’ <br /><br />देव
ने बताया कि मन्ना डे के
पार्थिव शरीर को यहां स्थित
रविन्द्र कलाक्षेत्र में
रखा जाएगा ताकि लोग उन्हें
श्रद्धांजलि दे सकें.
कोलकाता में वर्ष 1919 में
जन्मे मन्ना डे ने मुंबई में 50
साल से अधिक समय बिताया था.
प्रतिष्ठित दादासाहेब
फाल्के पुरस्कार से
सम्मानित मन्ना डे पिछले कई
वषरें से बेंगलूर में रह रहे
थे.<br /><br />देव ने बताया कि मन्ना
डे के पार्थिव शरीर को यहां
स्थित रविन्द्र कलाक्षेत्र
में रखा जाएगा ताकि लोग
उन्हें श्रद्धांजलि दे सकें.
कोलकाता में वर्ष 1919 में
जन्मे मन्ना डे ने मुंबई में 50
साल से अधिक समय बिताया था.
प्रतिष्ठित दादासाहेब
फाल्के पुरस्कार से
सम्मानित मन्ना डे पिछले कई
वषरें से बेंगलूर में रह रहे
थे.<br /><br />श्रोताओं को हिन्दी और
बांग्ला सहित अनेक भाषाओं
में 3,500 से अधिक गीतों की सौगात
देने वाले मन्ना डे की आवाज
कई पीढ़ियों की पसंदीदा रही.
उन्होंने न केवल रागों पर
आधारित गीत गाए बल्कि
कव्वाली और तेज संगीत वाले
गीतों को भी अपनी आवाज से
सजाया.<br /><br /><a
href=”http://abpnews.newsbullet.in/movies/25-More/57748-2013-10-24-02-40-41″>देेखें:
मन्ना डे के कुछ सुपरहिट और
सदाबहार गीत</a><br />
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
मन्ना डे को हरफनमौला गायक भी
कहा जाता है. ‘दादा साहेब
फाल्के’ पुरस्कार से
सम्मानित मन्ना डे ने
पाश्र्व गायक के रूप में अपना
करियर 1940 के दशक में शुरू किया
था. उन्होंने अपने गायन करियर
में अब तक 3,500 से ज्यादा गाने
गाए हैं. हिंदी फिल्मों के
अलावा उन्होंने बांग्ला,
गुजराती, कन्नड़, मलयालम और
असमिया भाषा में गीत गाए हैं.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<b><b><b><b><b></b></b></b></b></b><br />
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
रोमांटिक, शास्त्रीय, हास्य
मिश्रित गीतों के जरिये अपनी
बहुमुखी गायन प्रतिभा का
प्रदर्शन करने वाले मन्ना डे
का वास्तविक नाम प्रबोध
चंद्र डे था.<br /><br />मन्ना डे के
गाए लोकप्रिय और सदाबहार
गीतों में ‘सुर न सजे क्या
गाउं मैं’, ‘न तो कारवां की
तलाश है न तो हमसफर की तलाश
है’, ‘पूछो न कैसे मैंने रैन
बिताई’, ‘लागा चुनरी में दाग’,
‘आजा सनम मधुर चांदनी में हम’,
‘दिल का हाल सुने दिलवाला’ ‘ये
रात भीगी भीगी ये मस्त
फिजाएं’, ‘झनक झनक तोरी बाजे
पायलिया’, ‘तू प्यार का सागर
है’, ‘चुनरी संभाल गोरी उड़ी
चली जाए रे’ और ‘ऐ मेरी
जोहराजबीं’ जैसे गीत शामिल
हैं.<br />
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
मन्ना डे को 1971 में पद्मश्री
और 2005 में पद्म विभूषण से
सम्मानित किया गया.  दादा
साहब फाल्के अवार्ड भी मन्ना
डे को 2007 में दिया गया. <br />
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
http://www.youtube.com/watch?v=JvewTd8wQ2I<br />
</p>

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ठहर जा ओ जाने वाले…मशहूर गायक मन्ना डे नहीं रहे!
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017