फिल्म समीक्षा: सनी लियोनी की एडल्ट स्टार इमेज को भुनाया गया है रागिनी MMS 2 में

फिल्म समीक्षा: सनी लियोनी की एडल्ट स्टार इमेज को भुनाया गया है रागिनी MMS 2 में

By: | Updated: 21 Mar 2014 08:04 AM



रेटिंग- ** (दो स्टार)

 

नई दिल्ली: पहली बात ये कि जिस थिएटर में मैंने इस फिल्म का पहला शो देखा उसकी हर सीट भरी हुई थी. पता चला कि अगला शो भी हाउसफुल है. ऐसा आमतौर पर बड़े स्टार्स की फिल्मों के साथ होता है. प्रोड्यूसर एकता कपूर ने एडल्ट स्टार सनी लियोनी को लेकर फिल्म के कमाई वाले डिपार्टमेंट को पूरी तरह सुरक्षित कर लिया है.

 

एकता ने इस फिल्म को हॉरेक्स (हॉरर+सेक्स) कहकर प्रोमोट किया है. हॉरर के नाम पर तो फिल्म में एक भी सीन ऐसा नहीं है जिसे देखकर आपको ज़रा सा भी डर लगे. हां, सनी लियोनी को जिस मक़सद से फिल्म में लिया गया, उन्होंने काफ़ी हद तक उस मक़सद से न्याय करने की कोशिश की है.

 

कहानी-

फिल्म अपने प्रीक्वेल ‘रागिनी एमएमएस’ से आगे की कहानी कहती है. रागिनी (कायनाज़ मोतीवाला) पिछली फिल्म की घटनाओं के बाद पागलखाने में बंद है. उसकी कहानी पर एक फिल्म निर्देशक रॉक्स (प्रवीन डबास) फिल्म बनाना शुरू करता है. फिल्म में रागिनी की भूमिका के लिए एडल्ट स्टार सनी लियोनी (सनी लियोनी) को साइन किया जाता है. फिल्म की शूटिंग भी उसी वीरान बंगले में शुरू की जाती है जहां पिछली कहानी में ख़तरनाक घटनाएं घटी थीं. मगर इससे पहले की कोई कुछ समझ पाए, फिल्म की यूनिट के सदस्य एक-एक कर मारे जाते हैं.

 

फिल्म की कहानी में ज़रा सा भी नयापन नहीं हैं. ये इतनी सपाट है कि पहला सीन देखकर आपको पूरी फिल्म का अदाज़ा लग जाता है. निर्देशक भूषण पटेल ने फिल्म की रफ़्तार तेज़ रखी है.

 

फिल्म में इस बात का पूरा ध्यान रखा गया है कि दर्शक इस फिल्म को एक ही वजह से देखने आएंगे और वो हैं सनी लियोनी. तो फिल्म के ज़्यादा से ज्यादा सीन्स में वो नजर आती है. ग्लैमरस लगने और डरने के अलावा फिल्म में उन्हें कुछ नहीं करना था, और उन्होंने कुछ किया भी नहीं है. ये अलग बात है कि वो जो भी करती है, उनके चेहरे के भाव बिलकुल एक जैसे रहते हैं. फिल्म में किसी भी और कलाकार का काम चर्चा के लायक नहीं है.

 

लाउड बैकग्राउन्ड संगीत, सस्ते सेट्स, डरावने मेकअप वाली चुड़ैल और एकता कपूर के सीरियल्स के कई कलाकार. कई बार तो ये महसूस होता कि हम फिल्म नहीं बल्कि एकता का ही कोई बोरिंग टीवी सीरियल देख रहे हैं.

 

फिल्म में तीन गीत भी हैं जो काफ़ी अच्छे हैं. लेकिन उनमें भी पूरा ध्यान कैमरा सिर्फ सनी लियोनी पर ही रखा गया है.



पिछली रागिनी एमएमएस हॉलीवुड फिल्म Blair Witch Project और Paranormal Activity पर आधारित थी और इस सीक्वेल से कहीं बेहतर थी. उस फिल्म में कई डराने वाले सीन थे जो आम हॉरर फॉर्मूलों से अलग थे. रागिनी एमएमएस-2 बेहद आम और घिसी-पीटी हॉरर फिल्म है जिसमें सिर्फ सनी लियोनी की एडल्ट स्टार इमेज को भुनाया गया है.

 

(Follow Yasser Usman  on Twitter @yasser_aks, You can also send him your feedback at yasseru@abpnews.in)

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Bollywood News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story PNB Scam: नीरव मोदी ब्रैंड से प्रियंका चोपड़ा ने खत्म किया करार