बॉक्‍स ऑफिस पर इस हफ्ते तीन-तीन कॉमेडी फिल्‍में

बॉक्‍स ऑफिस पर इस हफ्ते तीन-तीन कॉमेडी फिल्‍में

By: | Updated: 22 Aug 2012 03:12 AM

<p style="text-align: justify;">
<b>नई दिल्ली: </b>इस
शुक्रवार को 'शीरीं फरहाद की
तो निकल पड़ी', 'फ्रॉम सिडनी
विद लव' और 'डेल्ही इन अ डे'
जैसी हास्य प्रधान फिल्में
प्रदर्शित होने जा रही हैं. <br /><br />ये
तीनों फिल्में न तो बड़े बजट
की हैं और न ही इनमें बेहद
लोकप्रिय कलाकार काम कर रहे
हैं, फिर भी 'शिरीं फरहाद की तो
निकल पड़ी' सबसे अधिक चर्चा
में है, जो डांस कोरियोग्राफर
फराह खान की अभिनय के लिहाज
से पहली फिल्म है.<br /><br />फिल्म
एक रोमांटिक कॉमेडी है. पूरी
फिल्म 45 साल के अविवाहित
फरहाद पसताकिया (बमन इरानी)
के ईद-गिर्द घूमती है, जिसे 40
साल की शीरीं फुगावाला (फरहा)
से पहली नजर में ही प्यार हो
जाता है. बात तब बिगड़ती है जब
फरहाद की मां नरगिस को पता
चलता है कि उनके बेटे के
सपनों की रानी उनकी कट्टर
दुश्मन है.<br /><br />संजय लीला
भंसाली और सुनील लुला इसके
संयुक्त निर्माता हैं. 'शीरीं
फरहाद..' भंसाली की बहन बेला
सहगल की बतौर निर्देशक पहली
फिल्म है.<br /><br />'शीरीं फरहाद..'
के साथ इसी हफ्ते प्रदर्शित
होने जा रही 'फ्रॉम सिडनी विद
लव' जाने-माने फिल्मकार
प्रमोद चक्रवर्ती के पोते
प्रतीक चक्रवर्ती की फिल्म
है. फिल्म एक पारिवारिक हास्य
मनोरंजन है, जिसमें शरद
मलहोत्रा, बिदिता बाग, इवलिन
शर्मा और रश्मि घोष जैसे नए
चेहरों को लिया गया है.<br /><br />तीसरी
फिल्म 'डेल्ही इन..' दक्षिणी
दिल्ली के एक बड़े घर में
रहने वाले भाटिया परिवार के
इर्द-गिर्द घूमती है. इसमें
दिल्ली के संपन्‍न वर्ग, बीते
समय के नवाब परिवार और मौजूदा
परिवार के बीच अंतर को दिखाया
गया है. इस फिल्म का निर्देशन
भारतीय मूल के निर्माता
प्रशांत नैय्यर ने किया है.<br /><br />फिल्म
में ब्रिटिश अभिनेता ली
विलियम्स, भारतीय अभिनेता
लिलिट दूबे, कुलभूषण खरबंदा,
विक्टर बनर्जी और अंजलि
पाटील ने काम किया है.<br />
</p>

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Bollywood News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story ‘खुदा गवाह’ और ‘रंगीला’ जैसी फिल्मों की सिनेमैटोग्राफी करने वाले डब्ल्यू.बी. राव नहीं रहे