बॉलीवुड को यश चोपड़ा के पांच बड़े योगदान

बॉलीवुड को यश चोपड़ा के पांच बड़े योगदान

By: | Updated: 22 Oct 2012 12:53 AM

<p style="text-align: justify;">
<b>मुंबई:
</b>फिल्‍मकार यश चोपड़ा ने
हिंदी फिल्म की दुनिया ही बदल
दी. वक्त की नब्‍ज़ के साथ
उन्‍होंने बॉलीवुड के
फिल्मों का रंग बदला. शहंशाह
से लेकर बादशाह तक और 'धूल के
फूल' से लेकर 'जब तक है जान' तक
फिल्मों में यश चोपड़ा ने
संगीत और फिल्मांकन का जो
प्रयोग किया उससे हिंदी
फिल्मों को नया आयाम मिला.<br /><br />बॉलीवुड
को फिल्म इंडस्ट्री बनाने
वालों में सबसे बड़ा नाम भी
यश चोपड़ा का ही है. पढि़ए
हिंदी फिल्म की दुनिया में यश
चोपड़ा के पांच अहम योगदान:<br /><br /><b>बदला
सिनेमा, बदला निर्देशन</b><br />यश
चोपड़ा अपने वक्त की नब्ज
पकड़ते थे. 'धूल का फूल' से
बॉलीवुड में शुरुआत करने
वाले यश चोपड़ा की खासियत ये
थी कि वो समय के साथ अपने
निर्देशन में जरूरी बदलाव
लाते थे. हर तरह की कहानी पर यश
चोपड़ा ने फिल्में बनाई, जो
हर पीढ़ी को पसंद आई. <br /><br />'वक्त'
फिल्म से यश चोपड़ा ने मल्टी
स्टारर ट्रेंड को बॉलीवुड
में स्थापित कर दिया. वहीं,
'दीवार' से बॉलीवुड को ऐसा
नायक दिया जो कानून को चुनौती
देते हुए खुलेआम हाथ पर 'मेरा
बाप चोर है...' के दस्तखत लेकर
चलता था. <br /><br />यश ने अमिताभ के
साथ खून के रिश्तों के
तानेबाने की कहानी पर आधारित
फिल्म 'त्रिशूल' बनाई तो
प्यार के त्रिकोण की कहानी
'सिलसिला' फिल्म में दिखाई. <br /><br />यश
चोपड़ा ने शाहरुख के साथ
फिल्मों में भी यही किया.
अपनी हंसी से दर्शकों को
डराते सिरफिरे आशिक की कहानी
'डर' में दिखी तो कॉलेज में
युवाओं के बीच पनपते प्यार की
कहानी 'दिल तो पागल है' में
गढ़ी.<br /><br /><b>संगीत जिसने बदल
दिया बॉलीवुड का समय</b><br />यश
चोपड़ा ने तीन पीढ़ियों को
ऐसे गाने दिए जो हर वक्त
गुनगुनाने लायक थे. जो यादगार
हैं और जिन्हें शायद ही लोग
भूल पाएं. उन्होंने ऐसी
फिल्मों की शुरुआत की जिनकी
जान संगीत में बसती थी. यश
चोपड़ा की 'सिलसिला' से लेकर
'जब तक है जान' का संगीत युवाओं
को खूब भाया है.<br /><br /><b>बॉलीवुड
को विदेशों तक पहुंचाया</b><br />बॉलीवुड
को विदेशों तक किसी ने
पहुंचाया तो वो यश चोपड़ा थे.
हर फिल्म में स्विटजरलैंड की
झलक. बर्फ से ढके पहाड़ों,
खूबसूरत घाटियों और झीलों की
झलक. यहां तक कि एक झील को तो
'यश चोपड़ा झील' कहा जाने लगा.
<br /><br />स्विटजरलैंड की खूबसूरत
वादियों को दुनिया के सामने
लाने के लिए स्विटजरलैंड
सरकार ने यश चोपड़ा को
सम्मानित भी किया था.
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह
ने भी कहा है, 'यश चोपड़ा ने
भारतीय सिनेमा को दुनिया भर
में लोकप्रिय बनाया. उन्हें
कई सरकारों ने सम्मानित किया
था. उन्हें करोड़ों लोग याद
करेंगे.' <br /><br /><b>शहंशाह और
बादशाह के निर्माता!</b><br />बॉलीवुड
के जानकारों के मुताबिक
अमिताभ बच्चन और शाहरुख खान
की कामयाबी में यश चोपड़ा का
बड़ा हाथ है. 'जंजीर' फिल्म से
अमिताभ बच्चन को पहचान मिली
लेकिन बॉलीवुड में अमिताभ की
कामयाबी की नींव यश चोपड़ा की
फिल्म 'दीवार' से पड़ी. <br /><br />इसके
बाद 1981 में अमिताभ के साथ यश की
सुपर हिट फिल्म 'सिलसिला' आई. 
अमिताभ के बाद यश ने बॉलीवुड
के एक और सुपर स्टार की तलाश
शाहरुख खान के रूप में पूरी
की.
</p>
<p style="text-align: justify;">
शाहरुख के साथ 1993 में यश ने 'डर'
फिल्म से शुरुआत की और हिट
फिल्मों का सिलसिला 'दिलवाले
दुल्हनिया ले जाएंगे' से लेकर
'वीर जारा' तक जारी रहा. यश
चोपड़ा की आखिरी फिल्म 'जब तक
है जान में' भी शाहरुख खान लीड
रोल में हैं.<br />
</p>

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Bollywood News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story 'पद्मावत' की शांतिपूर्ण स्क्रीनिंग के लिए दिल्ली पुलिस ने किए सुरक्षा के कड़े इंतजाम