युवाओं को खुश रखने में छुपी है सफलता: जॉन

युवाओं को खुश रखने में छुपी है सफलता: जॉन

By: | Updated: 27 Jul 2012 04:54 AM

<p style="text-align: justify;">
<b>नई
दिल्ली: </b>फिल्म 'विक्की डोनर'
से फिल्म निर्माण के क्षेत्र
में कदम रखने वाले जॉन
अब्राहम का कहना है कि उनके
पास सफलता का कोई मंत्र नहीं
है. यह तो बस अच्छा काम करने और
यह जानने में छुपा है कि
युवाओं को किससे खुशी मिलती
है. <br /><br />जब 39 वर्षीय जॉन से
उनके निर्माण में बनी पहली ही
फिल्म को मिली सफलता के राज
के बारे में पूछा गया तो
उन्होंने बताया, "देखिए
ईमानदारी से कहूं, अगर कल कुछ
गलत होता है, तो आप कहेंगे,
'क्या गलत हो गया?' यह सामान्य
सी बात है! प्रसिद्धि पाकर
आनंदित होकर, 'सुनो सब कुछ
अच्छा है,' कहने से ज्यादा
महत्वपूर्ण अच्छे काम को
जारी रखना है."<br /><br />उन्होंने
कहा, "जहां तक मेरा सवाल है
मुझे लगता है कि यह काफी
साधारण सा मंत्र है. एक इंसान
के रूप में मुझे विश्वास है
कि मैं जानता हूं कि एक युवा
फिल्म में क्या पसंद करता है
और मैं युवाओं के लिए फिल्म
बनाना चाहता हूं, जो फिल्म
देखकर कह सकें कि 'सुनो यह
बहुत अच्छी है, यह बहुत
मस्तीभरी और तारीफ के लायक
है."' <br /><br />अभिनेता से निर्माता
बने व्यक्ति के लिए एक नए
कलाकार को मुख्य भूमिका देना
काफी मुश्किल बात होती है,
लेकिन जॉन ने अपनी फिल्म
'विक्की डोनर' में आयुष्मान
खुराना को लेने को लेकर
ज्यादा नहीं सोचा. <br /><br />जॉन ने
कहा, "मैं एक व्यवहारिक
निर्माता बनना चाहता था.
ज्यादातर अभिनेता अपनी
फिल्म में खुद काम करते हैं.
मैं चाहता था कि मैं ऐसी
फिल्म बनाऊं जिसमें मेरा
विश्वास है, चाहे कलाकार कोई
और हो और मुझे आयुष्मान पर
पूरा भरोसा था. मैं उसको लेकर
एक और फिल्म कर रहा हूं. वह
बहुत प्रतिभाशाली और लाखों
में एक हैं."<br /><br />'विक्की डोनर'
के बाद जॉन तीन अन्य फिल्में
'जाफना', 'हमारा बजाज', 'काला
घोड़ा' का निर्माण कर रहे हैं.
<br />
</p>

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Bollywood News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story Secret Superstar China Box Office: ताबड़तोड़ कमाई के साथ दूसरे ही दिन फिल्म ने पार किया 100 करोड़ का आंकड़ा