शिफ्ट वर्किंग से 4 साल घट सकती है उम्र: रिसर्च

By: | Last Updated: Sunday, 12 January 2014 6:50 AM
शिफ्ट वर्किंग से 4 साल घट सकती है उम्र: रिसर्च

रायपुर: छत्तीसगढ़ के पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय (SU)के जीवन विज्ञान (लाइफ साइंस) विभाग ने एक शोध में पाया है कि कभी रात तो कभी सुबह, यानी अलग-अलग शिफ्ट में काम करने वाले लोगों की बायोलॉजिकल क्लॉक की लय बार-बार बदलती रहती है. इसका सीधा असर व्यक्ति के ‘लाइफ स्पैन’ पर पड़ता है और इस कारण उम्र चार साल तक घट सकती है.

 

दक्षिण-पूर्व रेलवे कर्मचारियों पर किए गए शोध में पाया गया है कि शिफ्ट में काम करने वाले लोगों की उम्र लगभग चार साल तक घट सकती है. यहां चल रही कार्यशाला में और भी तरह-तरह के शोध-पत्र पेश किए जा रहे हैं.

 

राजधानी रायपुर स्थित SU के लाइफ साइंस विभाग के प्रोफेसर ए.के. पति ने इस शोध की जानकारी क्रोनोबायोलॉजी के न्यू ट्रेंड पर आयोजित कार्यशाला में दी.

 

अहमदनगर से आए इंडियन सोसायटी ऑफ क्रोनोबायोलॉजी के पूर्व अध्यक्ष डॉ. डी.एस. जोशी और जमशेदपुर के डॉ. के.के. शर्मा ने ह्यूमन और एनिमल बायलॉजिकल क्लॉक की जानकारी दी.

 

डॉ. जोशी ने बताया कि सोलर सिस्टम व दिन और रात के माध्यम से हमारे शरीर की बायोलॉजिकल क्लॉक (जैविक घड़ी) स्वत: 24 घंटे की अवधि के लिए सेट हो जाती है. लेकिन, जहां दिन और रात का पता नहीं चलता वहां के लोगों की बायोलॉजिकल क्लॉक 24 घंटे से कम या ज्यादा अवधि की होती है.

 

कार्यशाला में डॉ. के.के. शर्मा ने बताया कि हर व्यक्ति की जैविक घड़ी प्रतिदिन 24 घंटों के हिसाब से काम करती है. सुबह के समय ज्यादा तनाव होना और रात होते- होते कम होना जैविक घड़ी की लय की वजह से होता है. इसी तरह सुबह मेलाटॉलिन हार्मोन सक्रिय होता है और रात होने तक नींद आने लगती है.

 

चूहों का क्लॉक: मां के आने जाने से सेट होता है

 

कार्यशाला में मदुरई यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर एम.के. चंद्रशेखरन के शोध के बारे में डॉ. जोशी ने बताया कि प्रो.चंद्रशेखरन ने खेतों में घूमने वाले चूहों के बच्चे को लैब में लाकर वैसा ही बनावटी वातावरण दिया. बिल की तरह ही सुबह और शाम को बच्चों की मां को उनसे मिलाया जाता रहा. बाद में पाया गया कि दिन-रात का पता न चलने पर बच्चे मां की मौजूदगी और अनुपस्थिति से बायलॉजिकल क्लॉक सेट कर लेते हैं.

 

कुटुंबसर में क्लॉक : चमगादड़ों की पॉटी से सेट होती है

 

रविवि के डॉ. ए.के. पति ने बताया कि समुद्र की गहराई या गुफा के अंदर, जहां दिन या रात का पता नहीं चलता, वहां का क्लॉक सिस्टम बेहद रोचक है. हाल ही में शोध में पाया गया कि कुटुंबसर गुफा के भीतर थोड़ा-सा पानी है, सुबह जब चमगादड़ झुंड में बाहर निकलते हैं, तो उनके पॉटी करने की आवाज और इससे पानी में आए बदलाव से मछलियों को समय का आभास हो जाता है. शाम को चमगादड़ों के लौटने की आवाज वक्त के बारे में जानकारी देती है.

 

वहीं जेट लेग इफेक्ट के बारे में डॉ. के.के. शर्मा ने बताया कि भारत और अमेरिका या दूसरे देशों में दिन-रात के समय में अंतर है. खिलाड़ी विदेश जाते हैं, तो उनकी बायोलॉजिकल क्लॉक बदल जाती है. दूसरे देश के समय के मुताबिक हमारे शरीर की क्लॉक हर दिन एक घंटा एडजस्ट करती है. कई बार तुरंत बायो क्लॉक एडजस्ट नहीं करने की वजह से भी खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं.

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: शिफ्ट वर्किंग से 4 साल घट सकती है उम्र: रिसर्च
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

गुलज़ार के जन्मदिन पर फैन्स को मिला तोहफ़ा, 1988 में बनी फिल्म ‘लिबास’ होगी रिलीज
गुलज़ार के जन्मदिन पर फैन्स को मिला तोहफ़ा, 1988 में बनी फिल्म ‘लिबास’ होगी...

मुंबई : जाने माने गीतकार और फिल्म निर्देशक गुलज़ार के 83वें जन्मदिन के मौके पर आज उनके फैन्स के...

माधुरी पर बनने वाले अमेरिकी शो की प्रोड्यूसर होंगी प्रियंका
माधुरी पर बनने वाले अमेरिकी शो की प्रोड्यूसर होंगी प्रियंका

मुंबई : बॉलीवुड की धक-धक गर्ल व डासिंग क्वीन के नाम से मशहूर अभिनेत्री माधुरी दीक्षित ने उनके...

धर्मेंद्र ने ट्विटर पर की शुरुआत
धर्मेंद्र ने ट्विटर पर की शुरुआत

मुंबई : दिग्गज अभिनेता धर्मेंद्र ने सोशल मीडिया वेबसाइट ट्विटर पर शुरुआत की है, जिस पर बेटे...

Watch : रिलीज हुआ 'भूमि' का पहला गाना 'ट्रिप्पी ट्रिप्पी', दिखा सनी का बोल्ड अंदाज
Watch : रिलीज हुआ 'भूमि' का पहला गाना 'ट्रिप्पी ट्रिप्पी', दिखा सनी का बोल्ड अंदाज

नई दिल्ली : संजय दत्त की आने वाली फिल्म ‘भूमि’ का पहला गाना ‘ट्रिप्पी ट्रिप्पी’ रिलीज हो...

मूवी रिव्यू: फीकी है 'बरेली की बर्फी'
मूवी रिव्यू: फीकी है 'बरेली की बर्फी'

स्टार कास्ट: आयुष्मान खुराना, कृति सैनन और राजकुमार राव, पंकज त्रिपाठी, सीमा पाहवा डायरेक्टर:...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017