...और जब पब्लिकली 'एक्सोपज' हो गए 'हीरो' सलमान खान

By: | Last Updated: Monday, 7 September 2015 5:35 AM
… And when Salman Khan exposed in musical night

मुंबई: कोई सुपरस्टार जब अपनी आवाज में गाए एक गाने को किसी फिल्म का सबसे बड़ा प्लस पॉइंट बताकर उस फिल्म की कामयाबी के लिए उसपर डिपेंड करने लगे तो थोड़ी-सी हैरानी लाजिमी है. सलमान खान भले ही फिल्म ‘हीरो’ के हीरो ना होकर फिल्म के को-प्रोड्यसूर हों, मगर प्रमोशनल स्ट्रैटजी के तहत फिल्म के लिए गाए टाइटल ट्रैक ‘तू है हीरो मेरा…’ के सहारे फिल्म की नैया पार लगाने की सलमान की कोशिश रविवार की रात को अपने पूरे शबाब पर थी. 

 

मौका था 1983 मे आई फिल्म ‘हीरो’ की रीमेक ‘हीरो’ के म्यूजिकल कॉन्सर्ट का. समय से लगभग पौने दो घंटे देर से शूरू हुए इवेंट से पैदा हुई ऊब को सलमान ने स्टेज पर आकर तोड़ा. मगर सलमान ने इस खास शो की शुरुआत अनपेक्षित रूप से दिवंगत आदित्य श्रीवास्तव को श्रद्धांजलि देते हुए की. सलमान ने माइक थामते ही इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से ये गुहार भी की कि गमगीन पलों की उनकी इन तस्वीरों को टीवी पर ना दिखाया जाए क्योंकि कहीं ये भी पब्लिसिटी का हिस्सा ना लगे.

 

बहरहाल, जानेवाले के लिए रखा गया एक मिनट का मौन जब टूटा तो उसे सलमान को हैरान करनेवाली हंसी में तब्दील होने में ज्यादा वक्त नहीं लगा. होस्ट के रूप में मंच पर खड़े एक लोकप्रिय रेडियो जॉकी ने एक भी सेकंड गंवाए बिना जब बड़े ही जोश-ओ-खरोश में पहले ही सवाल में सलमान की तारीफ के रूप में अपना अति-उत्साह दिखाया, तो ये सलमान को कतई रास नहीं आया.

 

सलमान ने फौरन तंज से लबेरेज हंसी चेहरे पर लाकर उस आरजे की क्लास लेने के अंदाज में कहा, ‘कितने फर्जी होते हैं हम लोग… मेरे जाने के बाद भी ऐसा ही होगा क्या?’ मंच के नीचे पहली पंक्ति में बैठे ओरिजनल ‘हीरो’ के प्रोड्यूसर और रीमेक के को-प्रोड्यूसर सुभाष घई ने दखल देते हुए ऊंची आवाज में कहा, ‘द शो मस्ट गो ऑन’. सलमान ने हामी में सिर हिलाते हुए इसी लाइन को दोहराया और म्यूजिकल नाइट का ये सिलसिला मातम के माहौल को पीछे छोड़ फौरन आगे बढ़ा.

 

माहौल में तब्दीली आई तो सलमान ने खुद को ही मजाक का हिस्सा बनाते हुए कहा, ‘मेरे सिंगिंग टैलेंट पर कितना यकीन है इन लोगों को… आज मैं एक्सपोज हो जाऊंगा. सबके सामने गाना गवांने का ये आइडिया किसका है’? 

 

और जैसा कि सलमान ने कहा, सचमुच वो इस म्यूजिकल नाइट में गाने की कोशिश के दौरान एक्सपोज हो गए. कईयों के सुरीले अंदाज में गाने के बाद सलमान ने अपनी स्वीकारोक्ति के मुताबिक जल्द ‘बेसुरा’ राग छेड़ा, मगर इसके बावजूद सबसे ज्यादा तालियां बटोर ले गए वो. स्टार-पावर और औरा की अहमियत लोगों के जेहन में सबसे ज्यादा होती है.

 

गाने के लिए माइक हाथ में थामने से पहले सलमान ने हंसी-हंसी में अपने गाने की काबिलियत को लेकर कई और भी खुलासे किए, ‘यहां तो ऑटो-ट्यून भी नहीं है… रिकॉर्डिंग के दौरान एक ही गाने को 15 बार गाना पड़ता है… इतना आसान थोड़े ना है’.

 

खैर, स्टेज पर रखे स्टैंड के सहारे चस्पां कागज में लिखे गाने के बोलों को पढ़ने के लिए सलमान ने कई बार चश्मा पहना-उतारा और नाटकीय अंदाज में उसे पढ़ ना पाने का हाव-भाव दर्शाया. फिर सरेआम अकेले गाना ना पाने के कुबूलनामे के बाद सलमान ने अमाल मलिक और अरमान मलिक को मंच पर बुलाकार साथ साथ ‘तू है हीरो मेरा…’ की धुन छेड़ी.

 

‘बस इससे ज्यादा नहीं होगा अब’. सुरीले अंदाज में गाने की सामूहिक कोशिश को अधर में ही रोकने का इशारा करते हुए सलमान ने पुरजोर आवाज में कहा. और जब ‘वन्स मोर… वन्स मोर… वन्स मोर…’ की आवाजें गूंजीं, तो सलमान ने फौरन कहा, ‘इतना पैसा में इतना ही मिलेगा’.

 

मंच से राहत फतेह अली खान जैसे दिग्गज और संगीत की दुनिया में पैर जमाने की कोशिश करनेवाले अरमान-अमाल बंधुओं और पलक मुंचाल की सुरीली गायकी का जादू भी सलमान के ‘सिंगिंग टैलेंट’ के सम्मोहन के आगे फेल हो चुका था.

 

इस म्यूजिकल नाइट में सलमान की लार्जर देन लाइफ शख्सियत की मौजूदगी ने फिल्म के लीड ऐक्टर्स सूरज पंचोली-अथिया शेट्टी के डांस परफॉर्मेंस का असर भी ज्यादा देर तक नहीं रहने दिया.