‘बाजीराव मस्तानी’ के सेट पर फूट-फूटकर क्यों रोई प्रियंका?

By: | Last Updated: Saturday, 21 November 2015 3:02 AM
Bajieao mastani trailar launch event

मुम्बई : ‘बाजीराव मस्तानी’ की शूटिंग का तीसरा ही दिन था.  सेट पर शूटिंग को लेकर काफी गहमागहमी थी. मगर फिल्म में काशीबाई का किरदार निभा रही प्रियंका चोपड़ा किन्हीं और ही तरह के जज्बातों के दौर से से गुजर रही थीं. उन्हें फिल्म में काशीबाई के किरदार को जीवंत करने में काफी दिक्कतें पेश आ रही थीं. समझ नहीं आ रहा था कि आखिरकार वो इस ऐतिहासिक किरदार के साथ कैसे न्याय करें. 

इसी उलझन के दौर से गुजर रही प्रियंका का धैर्य जल्द ही जवाब दे गया और उन्होंने दहाड़े मारते हुए रोना शुरू कर दिया. सेट पर रोते-रोते वो पहुंची डायरेक्टर संजय लीला भंसाली के पास और उन्होंने अपने हाथ खड़े करते हुए कह दिया था कि ये किरदार निभाना उनके बस की बात नहीं है.

 

‘बाजीराव मस्तानी’ से जुड़ा ये वाकया मीडिया के सामने तब आया, जब सात समंदर पार मोन्ट्रियाल से स्काइप के जरिए जुड़ी प्रियंका चोपड़ा को रणवीर सिंह ने मजाकिया अंदाज में इस वाकये की याद दिलाई और इसे सबके साथ शेयर के लिए उकसाया. प्रियंका ने पहले तो बिना कुछ कहे किसी बच्चे की तरह रोनेवाली शक्ल बनाकर दिखाई और फिर रणवीर के साथ मिलकर ये पूरा वाकया नाटकीय अंदाज में सुनाया.

 

फिल्म के ट्रेलर लॉन्च के बाद जैसे ही प्रियंका 70 एमएम के सिनेमाई पर्दे पर स्काइप के जरिए जुड़ीं, वो काफी भावुक हो गईं और शुरुआती बातचीत के दौरान वो अपनी नम आंखों को भी पोंछते हुए दिखाई दीं.

 

दीपिका ने लॉन्च के दौरान ही पहली दफा ट्रेलर देखा.  देखने के बाद उन्होंने कहा, ‘ये मेरे लिए एक मूवी नहीं, बल्कि एक एक्सपीरियंस है.  इस वक्त मैं इतनी इमोशनल हूं कि शायद रो ही पड़ूंगी’. दीपिका ने आगे कहा, ‘फिल्म ‘राम लीला’ में काम करते वक्त मुझे लग रहा था कि वो मेरे करियर की सबसे बड़ी फिल्म होगी, मगर ‘बाजीराव मस्तानी’ में काम करते हुए समझ में आया कि ‘राम लीला’ में काम करना अनजाने में इस फिल्म की तैयारी करने जैसा था.’

 

दीपिका को ‘पिंगा रे…’ गाने की ‘देवदास’ की ‘डोला रे…’ गाने से हो रही तुलना पर भी सफाई देनी पड़ी. उन्होंने कहा कि ‘डोला रे…’ की तरह ‘पिंगा रे…’ में भी दो हीरोइनें साथ नाच रही हैं और दोनों फिल्मों के निर्देशक भी एक ही हैं, ऐसे में दोनों गानों की तुलना की और कोई वजह नजर नहीं आती है, जो कि बिल्कुल गलत है.   

 

‘बाजीराव मस्तानी’ की चर्चा शाहरुख खान और काजोल की फिल्म ‘दिलवाले’ से बॉक्स ऑफिस पर टकराने को लेकर भी खूब हो रही है.  मगर जैसे-जैसे फिल्म की रिलीज डेट करीब आ रही है, फिल्म के किरदारों और कहानी को पर्दे पर उतारने की प्रामाणिकता पर भी सवाल उठने लगे हैं. 

 

ऐसे ही विवादों से जुड़ा सवाल जब दीपिका और रणवीर से किया गया, तो कार्यक्रम के होस्ट ने दखलअंदाजी करते हुए दोनों को जवाब देने से रोका. मगर मोन्ट्रियाल में बैठी प्रियंका ने बिन पूछे ही संक्षिप्त अंदाज में इसका जवाब कुछ यूं दिया, ‘हमारी फिल्म ‘राव’ नामक किताब पर बनी है और फिल्म पूरी तरह से लेखक के नजरिए पर आधारित है और यही वजह है कि ‘बाजीराव मस्तानी’ की लव स्टोरी भी प्रामाणिक है, जिसे संजय लीला भंसाली ने अपने खूबसूरत अंदाज में पेश किया है.’

 

होस्ट ने जब संजय लीला भंसाली को एक शब्द में डिस्क्राइब करने को कहा, तो रणवीर ने पहले उनके लिए ‘जीनियस’ शब्द का इस्तेमाल किया. बाद में दोबारा पूछे जाने पर उन्हें ‘रॉकस्टार’ बताया.  दीपिका ने ‘सेक्सी’ लफ्ज से संजय लीला भंसाली को नवाजा, तो वहीं प्रियंका ने उन्हें ‘मैग्नेटिक’ होने का दर्जा दिया. पहली पंक्ति में अपनी मां लीला और बहन बेला के साथ बैठे संजय लीला भंसाली को अपनी फिल्म के सितारों के मुंह से अपने लिए इन विशेषणों के निकलने की उम्मीद कतई नहीं थी.

 

बहरहाल, दीपिका और प्रियंका ने अपनी पुरानी और गहरी दोस्ती का हवाला देते हुए कहा कि फिल्म की शूटिंग के दौरान दोनों की ऑन स्क्रीन केमेस्ट्री और ऑफ स्क्रीन मस्ती देखकर लोग सेट पर कम हैरान नहीं होते थे और अक्सर हैरान होनेवालों में संजय लीला भंसाली का भी शुमार हुआ करता था.

 

वैसे जाते-जाते बता दें कि ब्लैक ड्रेस पहनकर आईं दीपिका पादुकोण और गंजे सिर पर स्टाइलिश पोनी टेल लेकर पहुंचे रणवीर सिंह की वेन्यू पर एंट्री एक शाही बग्घी की सवारी के साथ हुई. भव्यता को और बढ़ाने के लिए थियेटर के बाहर युद्ध में इस्तेमाल में की जाने वाले तोपों, अन्य चुनिंदा हथियारों और वस्त्रों की प्रतिकृतियां भी रखी गईं थीं. दीपिका-रणवीर-प्रियंका के आलिशान कटआउट्स भी लोगों को ‘बाजीराव मस्तानी’ के कुछ अलग होने की याद बार-बार दिलाने की कोशिश कर रहे थे.