30 अगस्त को बिहार में लालू और नीतीश से होगी मोदी की महाटक्कर

By: | Last Updated: Friday, 14 August 2015 12:31 PM

नई दिल्ली: जिस दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भागलपुर में रैली करने वाले हैं उसी दिन पटना में लालू-नीतीश की रैली होगी. प्रधानमंत्री का कार्यक्रम पहले से तय हो गया था. जबकि लालू-नीतीश की साझा रैली का कार्यक्रम हाल में तय हुआ है.

 

लालू-नीतीश पहले 29 अगस्त को रैली करने वाले थे. उस दिन रक्षा बंधन का त्योहार है इसलिए दोनों ने रैली की तारीख 30 अगस्त कर दी. अब इस रैली को दोनों गठबंधनों ने प्रतिष्ठा का सवाल बना दिया है. भागलपुर की रैली के संयोजक पूर्व केंद्रीय मंत्री शाहनवाज हुसैन रैली की तैयारी को लेकर लगातार जनसंपर्क कर रहे हैं.

 

शाहनवाज हुसैन ने स्थानीय मीडिया को बताया है कि भागलपुर की रैली अब तक की सबसे बड़ी रैली साबित होगी. शाहनवाज ने रैली की तारीख बदलने की किसी संभावना से इनकार किया है. इसीलिए अब माना जा रहा है कि बिहार के इतिहास में 30 तारीख शक्ति प्रदर्शन की तारीख साबित होगी. इससे पहले 2013 में पीएम मोदी जब पटना में ब्लास्ट के बाद रैली को संबोधित कर रहे थे तब दिल्ली में राहुल गांधी भी उसी वक्त सभा में बोल रहे थे.

 

दोनों की रैलियां टीवी पर लाइव चल रही थी. लेकिन मोदी के भाषण को ज्यादा सुनाया गया.30 अगस्त को अगर नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी दोनों एक साथ बोलने लगे तो फिर मीडिया के लिए एक बार फिर दुविधा की स्थिति होने वाली है.  सबसे बड़ी दिक्कत पार्टियों के नेताओं, कार्यकर्ताओं को आने वाली है.

 

30 तारीख की रैली के लिए भीड़ जुटाना दोनों गठबंधनों के लिए चुनौती होगी. पटना से भागलपुर की दूरी करीब 200 किमी. है. ट्रेन से करीब 6 घंटे लगते हैं. चूंकि नीतीश कुमार की पार्टी सत्ता में है इसलिए उसे निजी गाड़ी मिलने में सहूलियत होगी. बीजेपी को स्थानीय स्तर पर कार्यकर्ताओं को लेकर आने में दिक्कत हो सकती है.

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: bihar election
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017