बिहार: स्टिंग में घूस लेते दिखे मंत्री, नीतीश ने लिया इस्तीफा

By: | Last Updated: Monday, 12 October 2015 1:26 AM
Bihar Minister Awadhesh Kushwaha Resigns Over Charges of Graft

नई दिल्ली: बिहार में आज पहले चरण का मतदान होने वाला है. लेकिन उससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को तगड़ा झटका लगा है. यू-ट्यूब पर वायरल हुए एक स्टिंग ऑपरेशन में उनके एक्साइज मंत्री अवधेश कुशवाहा कथित तौर पर घूस लेते हुए दिखे हैं. स्टिंग ऑपरेशन के सामने आने के बाद नीतीश कुमार ने अवधेश कुशवाहा से इस्तीफा ले लिया है. इस स्टिंग ऑपरेशन को दिखाने से पहले हम आपको बता दें कि एबीपी न्यूज इस स्टिंग ऑपरेशन की पुष्टि नहीं करता है.

 

नोटों की गड्डी को संभालते ये हैं नीतीश सरकार के एक्साइज मंत्री अवधेश कुशवाहा. स्टिंग करने वाले शख्स का दावा है कि उसने बड़ा उद्योगपति होने की बात कहकर कुशवाहा से अपनी कंपनी के लिए मदद की बात कही. आरोप है इस पर अवधेश प्रसाद कुशवाहा तैयार हो गए और उन्होंने उससे एडवांस के तौर पर चार लाख रुपये भी ले लिए.

स्टिंग में फंसे मंत्री को नीतीश ने हटाया 

कुशवाहा हालांकि इस आरोप से इंकार कर रहे हैं. कुशवाहा ने बताया है कि इस स्टिंग आपरेशन को उनकी छवि धूमिल करने की विपक्ष की एक गहरी साजिश है तथा इसका वे राजनीतिक लाभ नहीं उठा सकेंगे. स्टिंग में पैसा लेने के बाबत कुशवाहा कहते हैं कि उन्होंने कोई पैसा नहीं लिया है. वे मानहानि का मुकदमा करेंगे. इस स्टिंग में आरजेडी के घोसी प्रत्याशी कृष्णनंदन वर्मा और मखदुमपुर प्रत्याशी सूबेदार सिंह को पैसा लेते दिखाए गए हैं.

 

स्टिंग ऑपरेशन में कुशवाहा फोन पर इस बारे में प्रदेश के उद्योग मंत्री से भी बात करते हुए भी पकड़े गये हैं. कुशवाहा का ये स्टिंग ऑपरेशन यू-ट्यूब पर वायरल हो चुका है और स्टिंग ऑपरेशन के आधार पर कार्रवाई करते हुए नीतीश कुमार ने कुशवाहा से इस्तीफा ले लिया है. कुशवाहा मोतिहारी के पिपरा से जेडीयू उम्मीदवार थे लेकिन अब पार्टी ने उनका टिकट काट दिया है.

 

जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के साथ कल देर शाम पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि उक्त स्टिंग आपरेशन को समाचार चैनलों दिखाए जाने के तुरंत बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अवधेश प्रसाद कुशवाहा से बातचीत की और उनकी भी बात करवायी. इसके बाद कुशवाहा से मंत्री पद से त्याग पत्र ले लिया गया है. इस्तीफे को स्वीकार किए जाने के मकसद राजभवन भेज दिया गया है.

 

उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी ने उक्त स्टिंग आपरेशन को सही माना है और पूर्वी चंपारण जिला के पिपरा विधानसभा क्षेत्र जहां से पार्टी ने कुशवाहा को अपना उम्मीदवार बनाया था, अब उनकी जगह किसी दूसरे को नामांकन की अंतिम तिथि आगामी 14 अक्तूबर के पूर्व उतारा जायेगा. नया उम्मीदवार घोषित किए जाने के लिए जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह से पार्टी के भीतर विचार-विमर्श करने के लिए आग्रह किया गया है.

 

यह पूछे जाने पर कि जब उनकी पार्टी ने उक्त स्टिंग आपरेशन को सही मान लिया है तो ऐसे में कुशवाहा को पार्टी से भी निष्कासित क्यों नहीं किया गया, शरद ने कहा कि इंतजार कीजिए इस दिशा में पार्टी द्वारा जल्द ही निर्णय किया जाएगा.

 

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी में समाजवादी विचारधारा की परंपरा रही है जो जयप्रकाश नारायण, राममनोहर लोहिया और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आदर्शो पर चलती रही है.

 

वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भ्रष्टाचार के मामले में हर्गिज बर्दाश्त नहीं करने की नीति रही है. ऐसे में सार्वजनिक और राजनीतिक जीवन में नैतिक मूल्यों का पालन हो, इसको ध्यान में रखकर कुशवाहा जी से तत्काल मंत्री पद से इस्तीफा ले लिया गया.

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Bihar Minister Awadhesh Kushwaha Resigns Over Charges of Graft
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017