डायरेक्टर सुभाष घई ने असहिष्णुता पर तोड़ी चुप्पी

By: | Last Updated: Monday, 30 November 2015 2:25 PM

मुंबई: देश में असहिष्णुता के मुद्दे पर छिड़ी बहस के बीच फिल्मकार सुभाष घई ने भी इस मुद्दे पर अपनी राय जाहिर की है. घई ने कहा है कि पूरा मुद्दा राजनीति से प्रेरित है, जबकि इसका संबंध समाज से जुड़ा है. घई ने ट्विटर पर लिखा, “बाबूजी कहते हैं कि असहिष्णुता असहिष्णु लोगों से आती है, जो शक्ति, भ्रष्टाचार, प्रोन्नति और सहूलियतों से वंचित हैं. अगर 70 वर्षो से गरीबी में रह रहे 100 करोड़ लोगों ने सहिष्णुता को अपनी ताकत और गुण बना लिया है तो 12,000 असहिष्णु नगीनों पर चर्चा क्यों की जाए.”

 

घई की टिप्पणी शायद हाल ही में बॉलीवुड सितारों शाहरुख खान और आमिर खान की टिप्पणियों के मद्देनजर आई है, जिन्हें देश मे बढ़ती असहिष्णुता पर अपने विचारों के कारण काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था.

 

घई ने अपने फेसबुक पेज पर भी इसे शेयर करते हुए लिखा, “तो आखिर सच्चाई आज बाहर आ गई है कि असहिष्णुता एक सामाजिक या सांप्रदायिक मुद्दे से अधिक एक राजनीतिक ढोंग है, जहां गरीब और कम खुशकिस्मत अत्यधिक गरीब भी वर्षो से सहिष्णु रहे हैं. अपनी स्थितियों में सहिष्णु बने रहने को अपना गुण मानते हुए और नई उम्मीदों के साथ आगे बढ़ते हुए.”

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Director Subhash Ghai joins the intolerance debate
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017