बर्थडे स्पेशल: फिल्मों में बोल्डनेस की परिभाषा लिखने वाली जीनत केवल 'सेक्स सिंबल' बनकर रह गईं!

By: | Last Updated: Thursday, 19 November 2015 6:36 AM
Happy Birthday Zeenat Aman

नई दिल्ली: हिंदी सिनेजगत में पश्चिमी सभ्यता का अक्स कहलाने और अपने लिए ‘सेक्स सिंबल’ की उपाधि पाने वाली अभिनेत्री जीनत अमान 70 के दशक की सबसे लोकप्रिय अभिनेत्रियों में से एक रही हैं.

 

वह फिल्मी करियर के दौरान ‘सेक्स सिंबल’ के रूप में पहचानी गईं. 1970 में मिस एशिया पेसिफिक का खिताब जीता. जीनत जीवन के 64वें बसंत में कदम रखने जा रही हैं.

 

मुंबई में 19 नवंबर, 1951 को जन्मीं जीनत के पिता अमानुल्लाह खान एक लेखक थे. जीनत उस वक्त 13 साल की थीं, जब पिता की मौत हो गई. उनकी मां सिदा ने कुछ समय बाद जर्मनी निवासी हेंज से शादी कर ली और उसके बाद जीनत जर्मनी चली गईं.

 

लॉस एंजेलिस में स्नातक की पढ़ाई अधूरी छोड़ वह भारत लौट आईं. अभिनेत्री ने अंग्रेजी पत्रिका ‘फेमिना’ में एक पत्रकार के तौर पर काम शुरू किया और बाद में मॉडलिंग का रुख किया.

 

मिस एशिया पेसिफिक का खिताब जीतने के बाद जीनत का फिल्मी करियर शुरू हुआ.

 

ओ.पी राल्हान की ‘हलचल’ और ‘हंगामा’ (1971) के असफल होने के बाद निराशा से भरी जीनत उस वक्त जर्मनी वापस जाने के लिए तैयार थीं, लेकिन उसी बीच बॉलीवुड के सदाबहार अभिनेता देव आनंद ने उन्हें एक फिल्म का प्रस्ताव दिया. 1971 में आई ‘हरे रामा हरे कृष्णा’ में जेनिस उर्फ जसबीर के निभाए किरदार और फिल्म के ‘दम मारो दम’ गीत ने जीनत को रातोंरात सुर्खियों में ला खड़ा किया.