मुझे अफसोस है कि मैंने ऐसी फिल्में की जिनमें औरतों को वस्तु की तरह पेश किया: आमिर

By: | Last Updated: Saturday, 15 November 2014 3:14 PM
i am ashamed that i have done such type of movies

नई दिल्ली:एबीपी न्यूज के शो असर पर आमिर खान ने कहा,  ‘मुझे शर्म आती है कि मैनें ऐसी फिल्में कि हैं जिसमें औरतों को एक वस्तु की तरह पेश किया गया है. बॉलीवुड में आइटम सांग के जरिए औरतों को एक ऑब्जेक्ट की तरह पेश किया जाता हैं जो औरतों का अपमान है.’

 

आमिर ने आगे अपनी प्रोडक्शन हाउस के बैनर तले बनी फिल्म ‘जाने तू या जाने ना’ के एक सीन का जिक्र करते हुए कहा कि मुझे अफसोस है कि मैने इस तरह के सीन को अपनी फिल्म में दिखाया.

 

दरअसल इस फिल्म में एक क्लब सीन है जहां एक लड़की को लड़के (अरबाज, सोहैल खान) छेड़ते हैं और तभी फिल्म के हीरो इमरान खान आ जाते हैं और बोलते हैं कि ये लड़की एचआईवी पॉजिटिव है जिसके बाद वो लड़के उससे दूर हो जाते हैं.

 

आमिर ने इस पूरे सीन का जिक्र करते हुए कहा कि मुझे शर्मिंदगी महसूस होती है कि मैनें अनजाने ही सही पर देश की कई लड़कियों और एचआईवी मरीजों का दिल दुखाया.

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: i am ashamed that i have done such type of movies
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017