अली अब्बास ज़फर ने कहा, भारतीय सिनेमा यथार्थवाद की ओर बढ़ रहा | Indian cinema moving towards realism, Says Tiger zinda hai’s director Ali Abbas Zafar

अली अब्बास ज़फर ने कहा, भारतीय सिनेमा यथार्थवाद की ओर बढ़ रहा

'टाइगर जिंदा है' के ट्रेलर को समीक्षकों और आम लोगों ने शानदार बताया है. अब फिल्म के निर्देशक ने कहा है कि इंडियन सिनेमा यथार्थवाद की ओर बढ़ रहा है.

By: | Updated: 08 Nov 2017 04:24 PM
Indian cinema moving towards realism, Says Tiger zinda hai’s director Ali Abbas Zafar
 

मुंबई: असल घटना पर आधारित अपकमिंग फिल्म 'टाइगर जिंदा है' के लिए तैयार निर्देशक अली अब्बास जफर का कहना है कि भारतीय सिनेमा यथार्थवाद की ओर बढ़ रहा है. 'टाइगर जिंदा है' की कहानी इराक में किडनैप हुईं 25 भारतीय नर्सों को बचाने के इर्द-गिर्द घूमती है. इनका अपहरण इराक में आतंकवादियों ने किया था.


जफर ने कहा, "भारतीय सिनेमा अब यथार्थवाद की तरफ बढ़ रहा है और फिल्म निर्माता के रूप में, हम चारों ओर घट रही घटनाओं से प्रेरित हो रहे हैं और बड़े पर्दे पर उन कहानियों को उतार रहे हैं."


निर्देशक ने बताया कि सलमान खान और कैटरीना कैफ स्टारर अपकमिंग फिल्म इसी दिशा में एक प्रयास है, जिसकी कहानी जीवन की वास्तविक घटना पर केंद्रित है.


उन्होंने कहा, "लेकिन यह टाइगर और जोया के किरदारों के साथ एक तरह की काल्पनिक फिल्म है, और ये किरदार आपको इन नर्सों और युद्धग्रस्त देश इराक की यात्रा कराएंगे."


'टाइगर जिंदा है' 22 दिसंबर को सिनेमाघरों में रिलीज होगी. यह साल 2012 में रिलीज़ हुई फिल्म 'एक था टाइगर' का सीक्वल है.


फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Indian cinema moving towards realism, Says Tiger zinda hai’s director Ali Abbas Zafar
Read all latest Bollywood News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story सनी दोओल की फिल्म को एक कट के साथ मिला 'A' सर्टिफिकेट, दोसाल से अटकी थी रिलीज