अब असहिष्णुता पर बोले इरफान खान

By: | Last Updated: Wednesday, 3 February 2016 2:26 PM
Irrfan Khan on intolerance

नई दिल्ली: अभिनेता इरफान खान का मानना है कि जानी-मानी शख्सियतें भी इस देश के हिस्सा हैं और उन्हें राष्ट्रीय मुद्दों पर अपनी राय व्यक्त करने का अधिकार है. इरफान, असहिष्णुता के बहस में शामिल होने वाले नये सितारे हैं और उन्होंने कहा है कि प्रगतिशील समाज के लिए किसी एक का मुंह बंद करना कोई स्वस्थ संकेत नहीं है.

कल रात यहां पर एनडीटीवी इंडिया के इंडियन ऑफ द ईयर अवार्ड के दौरान उन्होंने कहा, ‘‘मुझे यह काफी अजीब लगता है जब कुछ लोग कहते हैं कि अभिनेताओं को अभिनय करना चाहिए और उन्हें मुद्दों पर अपना विचार व्यक्त नहीं करना चाहिए. हर किसी को अपने दिमाग से बोलने और चिंता व्यक्त करने का अधिकार है. अगर आप चुप रहने के लिए कहते हैं तब यह एक प्रगतिशील और स्वस्थ्य समाज के लिए अच्छा संकेत नहीं है.’’

‘लाइफ ऑफ पाई’ के 49 वर्षीय अभिनेता का मानना है कि विचार व्यक्त करना व्यक्तिगत रूख होता है और अगर कोई अपना विचार व्यक्त नहीं करता है तो यह अच्छा है.

उन्होंने कहा, ‘‘यह एक व्यक्तिगत मामला है. कुछ लोगों को प्रतिक्रिया व्यक्त करने की प्रवृत्ति होती है जबकि कुछ लोगों में नहीं होती है.’’ इरफान ने कहा, ‘‘जब एंग ली यहां आए तो उनसे उनके देश की राजनीति के बारे में पूछा गया. और उन्होंने कहा कि वह राजनीति पर नहीं बात करते हैं. यह मुद्दा (असहिष्णुता) खबरों में रहा है. हम जो कहना चाहते हैं, उसे कहने में सुरक्षित महसूस करना चाहिए. हमें खुद को अभिव्यक्त करने में आजाद होना चाहिए.’’

इरफान की अगली फिल्म हॉलीवुड की ‘इनफर्नो’ है जिसमें वह टॉम हान्कस के साथ नजर आएंगे. इसके अलावा वह तिगमांशू धूलिया की हिन्दी फिल्म ‘यारा’ में भी नजर आएंगे.

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Irrfan Khan on intolerance
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Irrfan Khan
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017