कंगना रनौत चाहती हैं लड़कियां ले उनके जीवन से ये बड़ूी सीख/ kangana ranaut wants live an independent live beyond any sacrifice

कंगना रनौत चाहती हैं लड़कियां लें उनके जीवन से ये बड़ी सीख

कंगना रनौत अपना जीवन अपनी पसंद के मुताबिक जीती हैं, लेकिन उनका मानना है कि 21वीं सदी में भी महिलाओं को अपनी आवाज उठाने में मुश्किलें झेलनी पड़ती हैं.

By: | Updated: 15 Dec 2017 04:30 PM
kangana ranaut wants live an independent live beyond any sacrifice

नई दिल्ली: अपनी आने वाली फिल्म 'मणिकर्णिका' की शूटिंग में बिजी कंगना रनौत का मानना है कि वो खुद को फिल्मों और रियल लाइफ दोनों में ही आदर्श नहीं मानती हैं. वह अपना जीवन अपनी पसंद के मुताबिक जीती हैं, लेकिन उनका मानना है कि 21वीं सदी में भी महिलाओं को अपनी आवाज उठाने में मुश्किलें झेलनी पड़ती हैं.


कंगना से जब पूछा गया कि ऐसी कौन सी चीजे हैं, जो लड़कियां उनके जीवन से सीख सकती हैं, तो उन्होंने मुंबई से टेलीफोन पर आईएएनएस से कहा, "मैं हमेशा खुद को प्राथमिकता देती हूं. मैं उस सिद्धांत पर नहीं चलती, जिसमें कहा जाता है कि अच्छी लड़कियों को अपने बारे में नहीं सोचना चाहिए और वे सभी बलिदान देने के लिए हैं. मेरा जीवन मेरा है और इसे अपने लिए जीना चाहती हूं."


kangana-story2


उन्होंने कहा, "मैं अपनी क्षमता का उपयोग करना चाहती हूं और खुद को जानना चाहती हूं. यह केवल मेरे भाई, बेटे, पति या मां के लिए नहीं है. मैं उन महानतम नायिकाओं की श्रेणी में शामिल नहीं हूं जो सबसे महान भारतीय महिला हैं और हर किसी को खुद से पहले रखती हैं और सबसे आखिर में खुद के बारे में सोचती हैं."


कंगना अपने निजी व पेशेवर जीवन के संघर्ष पर बेबाकी से बात करती हैं. इनकी बेबाकी व बहादुरी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने बतौर फिल्म उद्योग का हिस्सा होकर फिल्म उद्योग में खास रसूख रखने वाले फिल्मकार करण जौहर को वंशवाद का ध्वजवाहक तक कह दिया था.


जन्नत में विराट कोहली के साथ हनीमून मना रही हैं अनुष्का शर्मा, देखें पहली तस्वीर


उनके लिए समाज की कड़वी सच्चाई का सामना करना कितना चुनौतीपूर्ण होता है? इस सवाल पर कंगना कहती हैं, "एक छोटे शहर से यहां आना निश्चित रूप से बहुत ही चुनौतीपूर्ण था, जो आकांक्षी महिलाओं, खासकर महत्वाकांक्षी महिलाओं के लिए बहुत सहिष्णु नहीं है. अगर आप महत्वाकांक्षी हैं तो आपको एक खलनायिका के रूप में देखा जाता है. अगर आप अपना खुद पैसा कमाना चाहती हैं या आप किसी पर निर्भर नहीं होना चाहती हैं."


kangana


उन्होंने आगे कहा, "जो महिलाएं अपनी पसंद से चलती हैं और जो अपने अधिकारों के लिए लड़ती हैं, उन्हें हमेशा विद्रोहियों के रूप में देखा जाता है." कंगना ने कहा, "मैं खुद का आकलन अपनी सहजता व लड़ने की भावना से नहीं करती हूं."


गर्ल गैंग के साथ क्रिसमस पार्टी करती नज़र आईं मलाइका और करीना, देखें तस्वीरें


वह मानती हैं कि 21वीं सदी में भी महिलाओं के लिए अपनी आवाज उठाने में मुश्किलें आती हैं. उन्होंने कहा, "यह बहुत मुश्किल है. मध्यकालीन सामाजिक मानदंड कुछ लोगों के लिए बहुत ही सुविधाजनक हैं, इसलिए इससे महिलाओं और कुछ पुरुष भी परेशान होते हैं."

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: kangana ranaut wants live an independent live beyond any sacrifice
Read all latest Bollywood News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story पाकिस्तान में चला जरीन का जादू, फिल्म ‘1921’ ने महज़ 4 दिनों में की बंपर कमाई