पुलिस अधिकारियों को 'मर्दानी' न दिखाने की रिक्वेस्ट

By: | Last Updated: Thursday, 4 September 2014 2:55 AM
mardani_not_to_be_shown_to_police_officers

नई दिल्ली: कॉमनवेल्थ ह्यूमन राइट्स इनिशिएटिव (सीएचआरआई) ने एक खुले पत्र में आग्रह किया है कि ‘मर्दानी’ पुलिस अधिकारियों को न दिखाई जाए, क्योंकि यह फिल्म पुलिस की ‘योग्यता’ के नाम पर ‘हिंसा’ और ‘मुठभेड़ शैली’ को बढ़ावा देती है.

 

बाल तस्करी का मुद्दा उठाने वाली फिल्म ‘मर्दानी’ से प्रभावित होकर बिहार के एक शीर्ष पुलिस अधिकारी ने जिला प्रमुखों से अनुरोध किया था कि सभी पुलिस अधिकारियों को यह फिल्म दिखाने की व्यवस्था की जाए. सीएचआरआई ने हालांकि इससे अलग राय जताई है.

 

बिहार के सीआईडी महानिरीक्षक अरविंद पांडेय ने अपने जिले के एसपी, जीआरपी एसपी और बिहार सैन्य पुलिस के कमांडेंट को निर्देश दिया था कि सभी पुलिस अधिकारियों को ‘मर्दानी’ दिखाई जाए. लेकिन अब सीएचआरआई ने पांडेय को खुला पत्र लिखा है.

 

पत्र में लिखा गया, “इसमें कोई राय नहीं कि ‘मर्दानी’ की शिवानी में कुछ ऐसी विशेषताएं हैं, जो हर पुलिस अधिकारी में होनी चाहिए, लेकिन हम आग्रह करते हैं कि ‘मर्दानी’ का पुलिसिया स्टाइल पुलिस अधिकारियों को न दिखाया जाए और हमारा सुझाव है कि इसे सार्वजनिक रूप से स्पष्ट किया जाए.”

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: mardani_not_to_be_shown_to_police_officers
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017