मुझे या सलमान को जीतने या हारने के लिए कुछ नहीं: सूरज बड़जात्या

By: | Last Updated: Saturday, 3 October 2015 3:13 AM

मुंबई: सूरज बड़जात्या और सलमान खान 16 साल बाद फिल्म ‘‘प्रेम रतन धन पायो’’ में एक साथ आए हैं और फिल्मनिर्माता का कहना है कि उनमें में से कोई भी कामयाबी या नाकामी के दबाव में काम नहीं करते हैं.

 

पचास वर्षीय निर्देशक की पहली फिल्म ‘‘मैंने प्यार किया’’ थी जिसमें सलमान पहली बार मुख्य भूमिका में थे. लेकिन वह ‘‘बजरंगी भाईजान’’ सितारे की कामयाबी के लिए खुद को श्रेय नहीं देते और उनका मानना है कि वह अपने समकालीन कलाकारों से काफी आगे हैं.

 

बड़जात्या ने कहा, ‘‘ सलमान हर बार मुझे श्रेय देते रहते हैं लेकिन मैंने कुछ नहीं किया है. हम दोनों के लिए कुछ भी जीतने या हारने के लिए नहीं है. हो सकता है कि हम दोनों के नाम में ‘‘एस’’ अक्षर है. सलमान को ‘‘मैंने प्यार किया’’ एक अभिनेता के तौर पर नहीं बल्कि एक इंसान के तौर पर मिली थी. वह आज हम सब से काफी आगे हैं.’’

 

‘‘हम आपके है कौन’’ के फिल्मकार बड़जात्या को सबसे मृदुभाषी निर्देशकों में से एक माना जाता है. उनका कहना है कि कोई भी लोगों पर चिल्लाकर उन्हें काम के लिए बाध्य नहीं कर सकता.

 

 

यहां क्लिक करके देखें ट्रेलर