मूवी रिव्यू: रणबीर- अनुष्का की जबरदस्त कमेस्ट्री के बावजूद निराश करती है 'बॉम्बे वेल्वेट'

By: | Last Updated: Thursday, 14 May 2015 7:47 PM
MOVIE REVIEW: Bombay Velvet

रेटिंग:   *** (तीन स्टार)

 

नई दिल्लीः “अपुन को ‘बिग शॉट’ बनना है” फिल्म बॉम्बे वेल्वेट में ये डायलॉग तो जॉनी बलराज (रणबीर कपूर) का है लेकिन महसूस ये होता है कि ये फिल्म के निर्देशक अनुराग कश्यप के दिल से निकलती आवाज़ थी जो इस फिल्म में वो सबकुछ करना चाहते थे जो उन्होंने पहले नहीं किया. बॉम्बे वेल्वेट में वो मार्टिन स्कॉरसीज़ भी बनना चाहते हैं, डैनी बॉयल भी, सुभाष घई का अंदाज़ भी चाहते हैं और मनमोहन देसाई के मसाले भी. शायद इन सब चाहतों के बीच फिल्म में कई बार अनुराग कश्यप ख़ुद जैसे गुम हो जाते हैं.

 

1960 के दशक का बॉम्बे अनुराग ने जिस खूबसूरती से री-क्रिएट किया है, वो बॉलीवुड में इससे पहले वाक़ई कभी नज़र नहीं आया था. ये वो बॉम्बे है जिसका ज़िक्र किताबों और फिल्मों में कम ही होता है. जैज़ की ऩशीली धुनों में सराबोर गीत, बीते वक़्त की याद दिलाने वाली कई तस्वीरें, अख़बारों की हेडलाइन्स और इतिहास से जुड़े क़िस्से, पुराने बॉम्बे के खूबसूरत सेट्स, भव्य कॉस्टयूम और रणबीर-अनुष्का की ज़बरदस्त केमेस्ट्री आपको पूरी तरह जैसे उसी दौर में ले जाती है. लेकिन फिर फिल्म के दूसरे भाग में तस्वीरों के नेगेटिव के नाम पर ब्लैकमेलिंग, डबल रोल और दोस्त की क़ुर्बानी जैसे 1970 की फिल्मों वाले घिसे-पिटे मसाले ठूंसकर अनुराग कश्यप ख़ुद अपनी मेहनत पर पानी फेरने का फैसला करते हैं.

 

लेखक ज्ञान प्रकाश की कहानी पर आधारित ‘बॉम्बे वेल्वेट’ की शुरुआत देश की आजादी के दो साल बाद यानि 1949 में होती है. विभाजन की त्रासदी को झेलते हुए दो बच्चे बलराज और चिम्मन बंबई पहुंच जाते हैं. बड़े शहर में कुछ बड़ा करने का ख़्वाब अंगडाई ले रहा है. ‘बिग शॉट’ बनने के रास्ते की तलाश में बलराज (रणबीर कपूर) और चिम्मन (सत्यदीप मिश्रा) ख़ुद को मीडिया बैरन कायज़ाद खंबाटा (करण जौहर) के सामने खड़ा पाते हैं. अब वो खंबाटा के मोहरे हैं जो उसके एक इशारे पर कुछ भी करने को तैयार हैं. खंबाटा के क्लब बंबई वेल्वेट का मैनेजर जॉनी बलराज बनता है और यहां की स्टार सिंगर रोज़ी जिसे जॉनी दीवानों की तरह प्यार करता है. बंबई महानगर बनने वाला है और हर नेता, बिज़नेसमैन, मिल मालिक यहां तक कि अख़बार के एडिटर तक को बंबई में हिस्सा चाहिए. बलराज को भी अपना हिस्सा चाहिए जिसे लेकर वो रोज़ी के साथ अपनी दुनिया बसा सके. मगर ‘बिग शॉट’ बनने के ख़्वाब और मोहब्बत के बीच कई धोखे हैं, छल हैं, जलन है और सियासत का जाल भी.

 

फिल्म मूल रूप से एक लव स्टोरी है लेकिन हीरो-हीरोइन के इश्क़ के साथ, पृष्ठभूमि में बॉम्बे शहर भी परवान चढ़ रहा है. ऊंची बिल्डिंगे, ट्रेड टावर की प्लानिग हो रही है. साथ ही कैपिटलिज़्म और सोशलिज़्म की सदियों पुरानी बहस भी है. दो अख़बारों के एडिटर एक-दूसरे को ‘अमेरिका का एजेंट’ और ‘रूस का टट्टू’ कहकर चिढ़ाते हैं. फिल्म कई ज़रूरी ऐतिहासिक घटनाओं को छूकर तो गुज़रती हैं, लेकिन फिर भी कोई अहम पॉलिटिकल कॉमेन्ट नहीं कर पाती. अच्छे डायलॉग की बजाए हर किरदार ‘पंचलाइन’ बोलता नज़र आता है. स्टाइल पर ध्यान ज़्यादा है.

 

रणबीर कपूर ने ज़ॉनी बलराज बनने के लिए बहुत मेहनत की है. उनकी आंखों का निर्देशक ने बहुत अच्छा इस्तेमाल किया है. लेकिन कई जगह शायद वो भूल जाते हैं कि किरदार 1960 के वक़्त है. कई सीन में उनेक हाव-भाव सुपरस्टार रणबीर कपूर जैसे ही हो जाते हैं. शायद फिल्म की कामयाबी के लिए इस स्टार वाले रूप की ज़रूरत थी. एक जैज़ सिंगर की रूप में अनुष्का शर्मा पूरी ट्रेनिंग ली थी और उनके अस्वाभाविक होठों का राज़ भी शायद ये रोल ही थी. एक एक्ट्रेस के तौर पर वो निखर रही हैं. दोनों की केमेस्ट्री ज़बरदस्त है. फिल्म का सरप्राइज़ पैकेज करण जौहर हैं. उन्होंने खंबाटा के किरदार में जान डाल दी है. काश कि फिल्म के अंत में उनके किरादर को बंबइया मसाला फिल्मों के विलेन जैसा ना बनाया गया होता. इसके अलावा भी फिल्म की कास्टिंग बहुत अच्छी है. मनीष चौधरी, सत्यदीप मिश्रा, के के मेनन, सिद्धार्थ बसु जैसे कई कलाकार है जो कमज़ौर सीन्स को भी बेहतर बना देते हैं. 

 

फिल्म में अमित त्रिवेदी का संगीत बेहतरीन है और ख़ासतौर पर धडाम-धडाम और सिल्विया का उल्लेख ज़रूरी है. बैकग्राउंड स्कोर ज़बरदस्त है और उसके बारे में इतना कहना काफ़ी है कि अगर आंख बंद करके सिर्फ बैकग्राउंड संगीत ही सुन लिया जाए तो उस दौर में आसानी से पहुंच जाएंगे जहां ये फिल्म आपको ले जाना चाहती है.  

 

प्रोडक्शन डिजायन सोनल सावंत है और कई सीन में तो ये लगता ही नहीं कि वो असली बंबई नहीं बल्कि सेट्स हैं. कॉस्ट्यूम डिजायनर निहारिका खान ने उस दौर कॉस्ट्यूम को भव्यता के साथ क्रिएट किया है.  

 

लेकिन इन तारीफों के बीच फिल्म की कमज़ोरियां नहीं छिपतीं. फिल्म की रफ्तार बेहद धीमी है. कई सीन मसलन एक ही पल में खंबाटा क्यों जॉनी बलराज का गॉडफादर बन जाता है या एक सीन पर सैंटा क्लॉज़ बना रणबीर अगले ही पल दो-दो टॉमी गन लिए गोलियां क्यों बरसाता है? ये सीन बेहद बेवकूकाना हैं. अनुराग कश्यप हमेशा घिसे-पिटे फ़ॉर्मूलों का मज़ाक उड़ाते आए हैं लेकिऩ इस फिल्म में ख़ासतौर पर इंटरवल के बाद ऐसा कुछ नहीं है जो हम पहले सैकड़ो फिल्मों में नहीं देख चुके. अंत निराश करता है. एक्शन सीन्स का फिल्मांकन बहुत अच्छा है लेकिन कहानी के एतबार से आप शायद ये भी सोचें कि क्लाईमैक्स में रणबीर कपूर आख़िर इतना खून-खराबा कर क्यों रहे हैं? चार स्क्रीनप्ले राइटर होने के बावजूद कमी इसी डिपार्टमेंट में झलकती हैं. शायद आख़िर तक पसोपेश यही रहा कि एक विशुद्ध मसाला फिल्म बनानी है या फिर कुछ अलग तरह की फिल्म.

 

कहानी की कई बड़ी कमियों को सेट्स, संगीत और बेहतरीन फिल्मांकन ने ढक लिया  है मगर फिर भी लगता है कि कुछ कमी रह गई.

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: MOVIE REVIEW: Bombay Velvet
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

कई सितारों वाली फिल्म में काम करने पर कम दबाव महसूस होता है: परिणीति
कई सितारों वाली फिल्म में काम करने पर कम दबाव महसूस होता है: परिणीति

हैदराबाद : अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा का कहना है कि उनको कई सितारों से भरी फिल्म ‘गोलमाल अगेन’...

केरल के कोच्चि में सड़क पर दिखा सनी लियोनी के फैंस का हुजूम
केरल के कोच्चि में सड़क पर दिखा सनी लियोनी के फैंस का हुजूम

नई दिल्ली: बॉलीवुड अभिनेत्री सनी लियोनी की दीवानगी लोगों में किस हद तक है, इसकी एक बानगी आज केरल...

बालकृष्ण ने फिर जड़ा फैन को थप्पड़, वीडियो वायरल
बालकृष्ण ने फिर जड़ा फैन को थप्पड़, वीडियो वायरल

चेन्नई : अपने गुस्से के लिए मशहूर अभिनेता-राजनीतिज्ञ नंदमुरी बालकृष्ण ने एक बार फिर उनके साथ...

फोर्ब्स : सबसे ज्यादा कमाई करने वाली अभिनेत्रियों की लिस्ट से दीपिका बाहर
फोर्ब्स : सबसे ज्यादा कमाई करने वाली अभिनेत्रियों की लिस्ट से दीपिका बाहर

लॉस एंजेलिस : बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण फोर्ब्स मैगजीन की 2017 में दुनिया की सबसे अधिक...

राजकुमार राव की फिल्म 'न्यूटन' का टीजर रिलीज, देखें
राजकुमार राव की फिल्म 'न्यूटन' का टीजर रिलीज, देखें

नई दिल्ली: अभिनेता राजकुमार राव की फिल्म ‘न्यूटन का पहला टीजर रिलीज हो गया है. इरोस इंटरनैशनल...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017