कोई मेरी देशभक्ति पर सवाल नहीं उठा सकता: शाहरूख खान

By: | Last Updated: Tuesday, 3 November 2015 4:00 AM
No one can and should ever question my patriotism: Shah Rukh Khan

मुंबई: हिंदी सिनेमा के सुपरस्टार शाहरूख खान आज 50 साल के हो गए और इस मौके पर उन्होंने ‘असहिष्णुता के माहौल’ को लेकर बुद्धिजीवी वर्ग के बढ़ते विरोध के साथ अपनी आवाज जोड़ते हुए कहा कि देश में ‘घोर असहिष्णुता’ है.

 

शाहरूख ने कहा, ‘हम अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के बारे में बात कर सकते हैं. लेकिन लोग मेरे घर के बाहर आते हैं और पत्थर फेंकते हैं…अगर मैं रूख अख्तियार करता हूं तो इसके साथ खड़ा रहूंगा.’

 

शाहरूख ने कहा कि कभी किसी को उनकी देशभक्ति को लेकर सवाल नहीं करना चाहिए.

 

मोदी सरकार पर शाहरूख का बड़ा बयान, बोले- देश में असहिष्णुता बढ़ी है 

 

उन्होंने कहा, ‘हम कभी महाशक्ति नहीं होंगे अगर हमने यह नहीं माना कि सभी धर्म समान हैं.’ शाहरूख को उनके 50वें जगत से जुड़े लोगों ने उनकी अच्छी सेहत और खुशी की कामना करते हुए उन्हें एक शानदार इंसान और एक महान प्रेरणा बताया है.

 

कई लोगों ने शाहरूख के साथ काम करने के अपनी दिलचस्प कहानियों को बयां किया है जबकि अन्य लोगों ने सोशल मीडिया पर बताया है कि कैसे अभिनेता ने उन्होंने जीवन में बेहतर करने के लिए प्रेरित किया.

 

शाहरूख ने विरोध में अभिनेताओं के शामिल नहीं होने को लेकर हो रही आलोचना का भी जवाब दिया. उन्होंने इस बात पर जो दिया कि एक स्टार होने के तौर पर उनको हर नैतिक मुद्दे पर रूख अख्तियार करना मुश्किल है.

 

‘बढ़ती असहिष्णुता’ और फिल्मकारों, वैज्ञानिकों एवं लेखकों द्वारा पुरस्कार लौटाए जाने पर अपनी भावनाओं को प्रकट करते हुए शाहरूख ने कहा कि वह ‘प्रतीकात्मक रूख’ के तौर पर अपना पुरस्कार लौटाने में नहीं हिचकेंगे लेकिन उनको महसूस होता है कि उन्हें ऐसा नहीं करना है. शाहरूख में पास पद्मश्री सहित कई सम्मान हैं.

 

उन्होंने  कहा, ‘असहिष्णुता है, घोर असहिष्णुता है. मुझे लगता है कि असहिष्णुता बढ़ रही है.’

 

सुपरस्टार ने कहा, ‘असहिष्णु होना मूखर्ता है और यह सिर्फ हमारा एक मुद्दा नहीं बल्कि सबसे बड़ा मुद्दा है. देश में धार्मिक असहिष्णुता और धर्मनिरपेक्ष नहीं होना सबसे जघन्य तरह का अपराध है जो आप एक देशभक्त के रूप में कर सकते हैं.’

 

यह पूछे जाने पर वह अपना पद्मश्री पुरस्कार लौटाएंगे, तो शाहरूख ने कहा, ‘हां अगर मैं ऐसा करता हूं तो मेरा मतलब प्रतीकात्मक रूख के तौर पर होगा.’ इसके साथ ही उन्होंने कहा, ‘जिन लोगों ने सम्मान लौटाएं हैं मैं उनका सम्मान करता हूं, लेकिन मैं नहीं ऐसा करूंगा.’

 

अपने विचार को विस्तृत रूप से रखते हुए शाहरूख ने कहा, ‘लोग सोचने से पहले ही बोल देते हैं और यह धर्मनिरपेक्ष देश है. पिछले 10 सालों यह देश शायद हमारी सोच के दायरे आगे निकल रहा है.’

 

‘करण अर्जन’ और ‘कुछ कुछ होता है’ जैसी फिल्म में शाहरूख के साथ काम करने वाले सलमान ने कहा, ‘‘मैं उन्हें जीवन में बेहतर करने की शुभकामना देता हूं, मैं उनके अच्छे स्वास्थ्य, परिवार और सफलता एवं सबसे अदभूत जीवन की कामना करता हूं. मैं चाहता हूं कि पूरा परिवार स्वस्थ्य रहे.’’

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: No one can and should ever question my patriotism: Shah Rukh Khan
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017