‘पद्मावती’ विवाद पर नीरज घेवन बोले, खुद को इस देश का नागरिक कहने पर शर्मिदा हूं | Padmavati Row: Ashamed to Call Myself Citizen of This Country, Says Neeraj Ghaywan

‘पद्मावती’ विवाद पर नीरज घेवन बोले, खुद को इस देश का नागरिक कहने पर शर्मिदा हूं

'पद्मावती' विवाद पर 'मसान' फिल्म के निर्देशक नीरज घेवन ने कहा है कि एक आदमी नेशनल टीवी पर दीपिका का सिर काटने वाले को 10 करोड़ का इनाम देने का एलान करता है और उस व्यक्ति पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती है.

By: | Updated: 24 Nov 2017 12:47 AM
Padmavati Row: Ashamed to Call Myself Citizen of This Country, Says Neeraj Ghaywan

(तस्वीर: फेसबुक)

मुंबई: फिल्मकार नीरज घेवन का कहना है कि उन्हें खुद को एक ऐसे देश का नागरिक कहने में शर्मिंदगी महसूस हो रही है जहां लोग नेशनल टेलीविजन पर कलाकारों को धमकी देने के बाद खुले आम घूमते हैं. मशहूर फिल्म 'मसान' को बनाने वाले नीरज से उनकी शॉर्ट फिल्म 'जूस' की स्क्रीनिंग के दौरान संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' को लेकर मचे विवाद के बीच फिल्मकार की रचनात्मक स्वतंत्रता को लेकर सवाल किया गया था.


उन्होंने कहा, "मैं खुद को इस देश का नागरिक कहने पर भयभीत और शर्मिदा हूं क्योंकि एक व्यक्ति नेशनल टेलीविजन पर आकर यह ऐलान करता है कि वह दीपिका (अभिनेत्री दीपिका पादुकोण) की नाक या सिर काटने पर पांच करोड़ रुपये देगा और फिर यह प्रस्ताव 10 करोड़ रुपये तक चला जाता है. बावजूद इसके कोई कार्रवाई नहीं होती है."


ये भी पढ़ें: दीपिका पादुकोण ने पीएम मोदी के कार्यक्रम में जाने से किया इंकार, बेटी संग ट्रंप भी होंगे शामिल

उन्होंने कहा, "यह वाकई दुर्भाग्यपूर्ण है और यह एक दुखद स्थिति है, जिसका हम सामना कर रहे हैं."


'एस दुर्गा' और 'न्यूड' इन दो फिल्मों को भारत के 48वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह (आईएफएफआई) से बाहर रखने के सवाल पर नीरज ने कहा, "मुझे लगता है हम सब दबाव महसूस कर रहे हैं. एस दुर्गा और न्यूड को आईएफएफआई में इजाजत नहीं दी गई और यह कुछ ऐसा है जिस पर हमें सवाल करना चाहिए."


ये भी पढ़ें: भारत से पहले इस देश में मिली 'पद्मावती' को सेंसर बोर्ड से मंजूरी

उन्होंने कहा, "लेकिन, सबसे ज्यादा मुझे इस बात ने दुखी किया है कि देश की सबसे बड़ी अभिनेत्री को राष्ट्रीय चैनल पर इस तरह धमकाया जाता है और ऐसा करने वाले व्यक्ति को न ही गिरफ्तार किया गया और न ही कोई कार्रवाई हुई. और, यह सब एक काल्पनिक महिला की प्रतिष्ठा को बचाने के लिए किया गया. यह कैसा विडंबनापूर्ण समय है?"

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Padmavati Row: Ashamed to Call Myself Citizen of This Country, Says Neeraj Ghaywan
Read all latest Bollywood News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story नाबालिग अभिनेत्री छेड़छाड़ मामला: कोर्ट ने आरोपी को 22 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेजा