पैसों के लिए 'पीके' का रॉन्ग नंबर!

By: | Last Updated: Friday, 2 January 2015 3:12 PM

नई दिल्ली: फिल्म पीके में धार्मिक पाखंड पर चोट किया गया है औऱ दान-दक्षिणा के खिलाफ प्रहार किया गया है. लेकिन फिल्म पीके बनाने वालों ने खुद फिल्म की शूटिंग के दौरान धार्मिक स्थलों को दान दिये. क्या फिल्म खुद अपने निर्माण के दौरान अंधविश्वास का शिकार हो गई? 

 

फिल्म पीके में पोंगापंडितों पर जम कर हमला बोला गया था. धर्म के नाम पर कारोबार करने वालों की फिल्म पीके में खूब खिंचाई की गई थी. धर्म के ठेकेदार किस तरह पैसे का खेल खेलते हैं इस पर फिल्म पीके कड़ा प्रहार करती है. फिल्म की ये बातें धर्म गुरुओं को नागवार गुजरी. फिल्म के खिलाफ खूब हंगामा हुआ. पर जिस अंधविश्वास के खिलाफ आमिर खान ने फिल्म बनाई वह फिल्म खुद अपने निर्माण के दौरान अंधविश्वास का शिकार हो गई.

 

फिल्म का एक दृष्य है. जिसमें पीके को हाथ में पूजा की थाली लेकर चर्च जाते हुए दिखाया गया है. थाली में नारियल और अगरबत्ती रखे हुए हैं. चर्च में आमिर खान यानी पीके क्रूस के सामने नारियल फोड़ने की कोशिश करते हैं.

 

फिल्म पीके का चर्च वाला दृष्य जयपुर के ऑल सैंट्स चर्च में फिल्माया गया था. चर्च के फादर जे सी जोसफ ने आमिर और राजकुमार हिरानी को इसके लिए पाबन्द किया था. हालांकि बाद में मामले को सुलझा लिया गया. फिल्म की शूटिंग हुई और फिल्म यूनिट ने चर्च के रख-रखाव के लिए 20 हजार रुपये का चंदा दिया. इतना ही नहीं फिल्म निर्देशक राज कुमार हिरानी ने चर्च को एक क्रूस भी दिया जिसे वह मुंबई से अपने साथ लेकर आए थे. जैसा कि कहा जाता है प्रभु यीशु मसीह ने अपना बलिदान क्रूस पर चढ़ कर दिया था.

 

फिल्म में एक दृष्य है जहां पीके मंदिर में भक्तों के साथ लोट लोट कर भक्ति भाव दिखाता है. मंदिर में होने वाले पाखंड का पीके खूब मजाक उड़ाता है. लेकिन जब फिल्म निर्माताओं की बारी आई तो वह खुद मंदिर के दान के जाल में फंस गए.

 

नासिक का काला राम मंदिर में पीके के लोटने वाले हिस्से को फिल्माया गया था. फिल्म के निर्माताओं की तरफ से इस मंदिर को शूटिंग के बाद फिल्म पीके की टीम की तरफ से 25 हजार रुपये दान में मिले.

 

मंदिर में जाने के बाद आमिर खान घंटा बजाते हुए, लोटांगण और गंगा नदी में स्नान भी करते दिखाए गए हैं. इस शूटींग के दौरान कुछ लोगों ने मंदिर में आमिर की शूटिंग करने को विरोध भी किया था. लेकिन बाद में इजाजत मिल गई थी.

 

फिल्म निर्देशक राज कुमार हिरानी के प्रवक्ता ने स्वीकार किया है कि फिल्म की शूटिंग के समय मंदिर और चर्च को दान दिया गया था. फिल्म पीके को बिहार और यूपी में टैक्स फ्री कर दिया गया है लेकिन कई लोग ऐसे हैं जिन्हें लगता है कि फिल्म उनकी धार्मिक भावनाओं के खिलाफ है. जयपुर के एक व्यक्ति ने फिल्म के खिलाफ शहर के बजाज नगर पुलिस स्टेशन में मुकद्दमा दर्ज करवाया है. पुलिस ने शिकायत पर फिल्म अभिनेता आमिर खान, फिल्म के निर्देशक राजकुमार हीरानी, निर्माता विधु विनोद चोपड़ा और सेंसर बोर्ड की अध्यक्ष लीला सैमसन के खिलाफ मामला दर्ज भी कर लिया है.

 

फिल्म पीके का विवाद जितना गहराया फिल्म की कमाई बढ़ती चली गई. फिल्म अब तक करीब ढाई सौ करोड़ की कमाई कर चुकी है.

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: pk
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017