जब चलती ट्रेन में दीपिका-रणबीर ने जमकर किया ‘तमाशा’

By: | Last Updated: Monday, 23 November 2015 11:41 AM
Ranbir Kapoor, Deepika Padukone together board train to Delhi to promote ‘Tamasha’

मुंबई: फिल्म बनाने की जटिल प्रकिया से ज्यादा मुश्किल और थकाने वाला दौर कभी-कभी फिल्म प्रमोशन्स का होता है. आजकल अक्सर सितारे ऐसी शिकायतें करते हुए सरेआम दिखाई-सुनाई पड़ जाएंगे.

 

मगर इस शुक्रवार को रिलीज हो रही फिल्म ‘तमाशा’ के स्टार्स दीपिका पादुकोण और रणबीर कपूर ने रविवार को शाम 4.00 बजे मुम्बई सेंट्रल स्टेशन से ‘सुविधा एक्सप्रेस’ ट्रेन पर सवार होने से पहले या बाद में ऐसी कोई शिकायत नहीं की. कम से कम साथ में सफर कर रही मीडिया के सामने तो नहीं. प्रमोशन्स के लिए एक बार फिर से जब दिल्ली जाने की बात निकली, तो सबने मिलकर तय किया कि सफर ट्रेन से किया जाए ‘क्योंकि मजा आएगा’.

 

देखकर लगा कि डायरेक्टर इम्तियाज अली के साथ मजा खूब आया भी दीपिका-रणबीर को. वैसे इम्तियाज के लिए ट्रेन के जरिए हिंदुस्तान की लम्बाई-चौड़ाई नापना कोई नई बात नहीं है. उनकी हर फिल्म में किरदारों की भागदौड़ ऐसे ही सफर के रूप में सामने आती है. मगर दीपिका-रणबीर के लिए ट्रेन से सफर करना रोमांच से भरपूर साबित हुआ. दोनों को ट्रेन से सफर किए हुए सालों जो हो गए थे.

 

दीपिका ने एबीपी न्यूज से खास बातचीत के दौरान बताया कि मॉडलिंग और ऐंक्टिंग का पेशा अपनाने से पहले और स्टेट लेवल और नेशनल लेवल पर बैडमिंटन खेलने के दौरान कई बार बैंगलोर से लेकर अन्य राज्यों तक का सफर वो ट्रेन के जरिए ही किया करतीं थीं.

 

वहीं रणबीर ने आखिरी बार अपने कॉलेज की तरफ से फुटबॉल मैच खेलने के लिए देवलाली तक का सफर ट्रेन से किया था. वैसे कॉलेज आने-जाने के लिए अक्सर वो मुम्बई की लोकल ट्रेनों का ही सहारा लिया करते थे. इम्तियाज के लिए देश को बेहतर ढंग से जानने-समझने का जरिया ही इस तरह की यात्राओं पर निकल जाना है.

 

‘तमाशा’ के जरिए भी दीपिका-रणबीर को कई देशों के सैर करने का मौका मिला. कोरसिका , जापान और भारत में दिल्ली, शिमला और कोलकाता में फिल्म की हुई है. रणबीर के लिए जापान और कोरसिका के अलग-अलग रेस्तरां में जाकर खाना खाना और वहां के लोकल कल्चर को समझना मजेदार और यादगार अनुभवों में शुमार रहा, तो वहीं दीपिका को साथ-साथ कोरसिका और जापान की सैर में काफी मजा आया.  

 

मजा दोनों को तब भी खूब आया, जब एक अधेड़ उम्र टिकट चेकर दोनों की टिकट की जांच करने पहुंचे. दीपिका-रणबीर ने सबसे पहले टिकट चेकर को उन दोनों के सेलिब्रिटी होने की बात को भूल जाने की हिदायत दी और पूरी संजीदगी से उन्हें अपना फर्ज अदा करने की हिदायत दी. काले कोट वाले बाबू ने चलती ट्रेन में ‘तमाशा’ कर रहे दीपिका-रणबीर की ये छोटी सी मुराद पूरी की.

इसके बाद जब टीसी महोदय मुस्कुराते हुए अगले पैसेंजर के पास जाने लगे तो दीपिका को फिर मस्ती सूझी. उन्हें फिर से ऐक्टिंग करने का फरमान मिला. दीपिका ने उनसे कहा कि अब उन्हें उन दोनों के पास फिर से गंभीर अंदाज में आना है, उनके साथ कुछ ऐसे बिहेव करना है कि जैसे उनमें से किसी के पास टिकट नहीं है और ऐसा करते हुए उन्हें गुस्सा भी खूब करना है.

 

खिल्ली उड़ जाने का एहसास मन में और चेहरे पर असमंजस दर्शाती मुस्कान लिए टिकट चेकर कुछ देर के लिए खामोश-से हो गए, फिर हंसते हुए उन्होंने कह दिया, ‘ये तो हम नहीं कर पाएंगे’. ऐक्टिंग से इनकरा के ये स्वर सुनते ही दीपिका-रणबीर-इम्तियाज की तिकड़ी अपनी हंसी नहीं रो पाई.

 

चलती ट्रेन में रह-रहकर रणबीर मस्ती सूझ रही थी. कई चैनल्स के साथ चले इंटरव्यू के लम्बे सिलसिले के बाद, रात 11.00 बजे के आसपास दीपिका-रणबीर-इम्तियाज अपनी-अपनी सीट से उठे और उनका कारवां पैंट्री की ओर बढ़ने लगा. तीन कपार्टमेंट लांघकर कर पैंट्री तक जाने के इस छोटे से सफर के दौरान रणबीर ने कम्बल तानकर सोने की कोशिश कर रहे कई मुसाफिरों को जगाया और उन्हें सरप्राइज किया. लौटते वक्त एक महाशय को रणबीर का ऑटोग्राफ लेने का भी मौका मिला.

खैर, पेंट्री पहुंचते ही दीपिका-रणबीर-इम्तियाज ने उनके लिए बन रहे खास तरह के पकवानों का भी मुआयना किया और ऑर्डर प्लेस कर एक दूसरे कर्पाटमेंट में जाकर मिलकर खाने का स्वाद लिया. तीन घंटे के बाद रात 2.30 बजे कोटा स्टेशन पर ट्रेन रुकी, तो तीनों ने प्लेटफॉर्म पर उतरकर चाय की चुस्कियां लीं. ये बात और है कि प्लेटफॉर्म पर उन्हें देखने के लिए उमड़ी भीड़ तीनों को ना तो चाय ठीक से पीने दे रही थी और ना ही चाय वाले से ढंग से छोटी-सी गुफ्तगू का मौका दे रही थी. 

 

इससे पहले, तीनों रात 8.30 बजे वडोदरा में हॉल्ट हुई ट्रेन से बाहर नहीं निकले, मगर ट्रेन के दरवाजे पर खड़े होकर तीनों ने हाथ हिला-हिलाकर लोगों का अभिवादन किया और तस्वीरें खिंचवाईं. 

 

बहरहाल, लगभग 16 घंटे के इस तेजरफ्तार सफर के बाद सोमवार को सुबह 8.20 बजे जब नई दिल्ली स्टेशन पर ‘तमाशा’ के अनोखे प्रमोशन की रफ्तार थमी, तो रणबीर-दीपिका-इम्तियाज को प्लेटफॉर्म पर जमा बेकाबू भीड़ को चीरते हुए तेज कदमों से स्टेशन से बाहर निकलने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी. हिंदू कॉलेज के स्टूडेंट्स और दिल्ली की मीडिया के बीच प्रमोशन का एक और दौर उनका बेसब्री से इंतजार कर रहा था.

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Ranbir Kapoor, Deepika Padukone together board train to Delhi to promote ‘Tamasha’
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Deepika Padukone Ranbir Kapoor tamasha
First Published:

Related Stories

लोगों को सामाज का मन समझने में समय लगता है : अक्षय कुमार
लोगों को सामाज का मन समझने में समय लगता है : अक्षय कुमार

मुंबई : सामाजिक संदेश देने वाली फिल्मों के लिए प्रसिद्ध अक्षय कुमार का मानना है कि लोगों को...

Box Office : जानें पहले दिन 'बरेली की बर्फी' ने की है कितनी कमाई?
Box Office : जानें पहले दिन 'बरेली की बर्फी' ने की है कितनी कमाई?

मुंबई : कृति सैनन, आयुष्मान खुराना और राजकुमार राव अभिनीत फिल्म ‘बरेली की बर्फी’ ने...

'ए जेंटलमैन' के 'किस' सीन नहीं हटाए गए
'ए जेंटलमैन' के 'किस' सीन नहीं हटाए गए

मुंबई: आगामी फिल्म ‘ए जेंटलमैन’ की टीम ने उन अफवाहों का खंडन किया, जिनमें कहा गया था कि सेंसर...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017