ऋषि कपूर ने कहा, जम्मू कश्मीर हमारा और पाकिस्तान के नियंत्रण वाला कश्मीर उनका है | Rishi kapoor’s latest tweet on jammu Kashmir and farooq abdullah

ऋषि कपूर ने कहा, जम्मू कश्मीर हमारा और पाकिस्तान के नियंत्रण वाला कश्मीर उनका है

ऋषि कपूर ने जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्लाह के बयान का समर्थन करते हुए कहा है कि जम्मू-कश्मीर हमारा और पीओके उनका है.

By: | Updated: 12 Nov 2017 03:51 PM
Rishi kapoor’s latest tweet on jammu Kashmir and farooq abdullah

मुंबई: बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर ने ट्वीट कर जम्मू और कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के उस बयान का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि पाक अधिकृत कश्मीर पाकिस्तान का है.


ऋषि ने कहा, "अब्दुल्ला जी सलाम! आपसे पूरी तरह से सहमत हूं. जम्मू कश्मीर हमारा है और पाकिस्तान के नियंत्रण वाला कश्मीर उनका है. यही एक तरीका है जिससे हम इस समस्या का समाधान कर सकते हैं. मान लीजिए."


ऋषि कपूर ने अपने ट्वीट में ये भी कहा है कि मरने से पहले वो एक बार पाकिस्तान घूमना चाहते हैं. ऋषि ने ट्वीट किया, "मैं 65 साल का हूं और मरने से पहले मैं पाकिस्तान देखना चाहता हूं. मैं चाहता हूं कि मेरे बच्चे अपनी धरोहर को देखें. बस करवा दीजिए."


 





बता दें कि ऋषि का पुश्तैनी घर पाकिस्तान के पेशावर शहर में है. वो घर पृथ्वीराज कपूर के पिता दीवान बासेश्वरनाथ कपूर ने 1918 और 1922 के बीच बनवाया था. कपूर परिवार 1947 में हुए बंटवारे के बाद भारत आ गया था.


गौरतलब है कि कुछ रोज़ पहले जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने कहा था कि इस्लामाबाद के नियंत्रण वाला कश्मीर का हिस्सा पाकिस्तान के साथ ही रहेगा और इसमें किसी प्रकार का बदलाव नहीं होगा. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर को और अधिक स्वायत्तता की जरुरत है और उन्होंने आजादी की मांग करने वालों की निंदा की.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Rishi kapoor’s latest tweet on jammu Kashmir and farooq abdullah
Read all latest Bollywood News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story करीना से लेकर माधुरी-सुशांत तक, बॉलीवुड सितारों ने की नाबालिग अभिनेत्री से छेड़छाड़ की निंदा