कथक क्वीन को गूगल का सलाम, बनाया स्पेशल डूडल / special googole doodle on the bithday of kathak queen sitara devi

कथक क्वीन सितारा देवी को गूगल का सलाम, बनाया स्पेशल डूडल

पद्मश्री से सम्मानित कथक क्वीन सितारा देवी को जन्मदिन पर श्रद्धांजलि देते हुए गूगल ने स्पेशल डूडल बनाया है.

By: | Updated: 08 Nov 2017 07:52 AM
special googole doodle on the bithday of kathak queen sitara devi

नई दिल्ली: कथक क्वीन सितारा देवी 97 वें जन्मदिन पर गूगल ने विशेष डूडल बनी कर उन्हें श्रद्धांजलि दी है. सितारा देवी का जन्म आज ही के दिन 1920 में कोलकाता में हुआ था. रविंद्रनाथ टैगोर ने उन्हें 16 साल की उम्र में नृत्य सम्रागिनी के खिताब से नवाजा था.


कड़ी मेहनत से इस मुकाम को हासिल करने के बाद उन्हे साल 1970 में पद्मश्री से नवाजा गया. इसके बाद 1994 में कालिदास सम्मान से सम्मानित किया गया. आपको बता दें कि रेखा, मधुबाला, माला सिन्‍हा और काजोल जैसी हीरोइनों को सितारा देवी ने ही नृत्य कला सिखाई है.


सितारा देवी के बचपन की बात करें तो जब वो पैदा हुई थी तो उनका मुंह कुछ टेढ़ा था जिसके कारण उनका माता-पिता ने उन्हें नौकरानी को दे दिया था. इसके बाद उन्होंने ही सितारा देवी को पाला और उनका मुंह भी इलाज कर के सही कर दिया.


महज 10 साल की उम्र से ही सितारा देवी ने डांस की कला को धार देते हुए कई स्टेज शो देने शुरू कर दिए थे. इसी कारण उन्हें बचपन में ही पढ़ाई छोड़नी पड़ी. सितारा डांस के लिए मुंबई आ गईं.


एक रोज उन्होंने मुंबई में स्टेज शो किया जिसमें सरोजिनी नायडू, रविंद्रनाथ टैगोर और कोवासिकी जहांगीर जैसे लोग देखने वालो में शामिल थे. इसी दौरान गुरूदेव रविंद्रनाथ टैगोर को उनका नृत्य इतना पसंद आया कि उन्होंने उन्हें नृत्य सम्रागिनी का टाइटल ही दे दिया.


जिसके बाद वो इसी नाम से पहचानी जाने लगीं. देश विदेश में अपने नृत्य का जादू चालाने वाली सितारा देवी ने 25 नवंबर 2014 को दुनिया को अलविदा कहते हुए आखिरी सांस ली.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: special googole doodle on the bithday of kathak queen sitara devi
Read all latest Bollywood News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story सनी दोओल की फिल्म को एक कट के साथ मिला 'A' सर्टिफिकेट, दोसाल से अटकी थी रिलीज