दिल के बहुत करीब है 'जख्म': महेश भट्ट

By: | Last Updated: Wednesday, 20 August 2014 7:38 AM
Zakhm holds special place in my heart: Mahesh Bhatt

नई दिल्ली:  फिल्म ‘अर्थ’ और ‘डैडी’ का थियेटर में सफल मंचन करने के बाद फिल्ममेकर महेश भट्ट अब नेशनल अवार्ड जीतने वाली फिल्म ‘जख्म’ का नाट्य रूपांतरण लेकर आ रहे हैं.

 

दिलचस्प यह है कि 1998 में ‘जख्म’ फिल्म को रिलीज करने के लिए महेश भट्ट को सेंसर बोर्ड और अन्य अथॉरिटीज से कई महीनों तक लडाई लड़नी पडी थी. उस समय एनडीए की सरकार थी और अब एनडीए की ही सरकार में इस फिल्म का नाट्य रूपांतरण आ रहा है. महेश भट्ट का कहना है, “एक बच्चे की यादाश्त के साथ इस फिल्म में बाबरी मस्जिद जैसी घटना को दिखाया गया है. इस फिल्म को रिलीज करने के लिए मुझे तीन महीनों तक लड़ाई लड़नी पड़ी थी.”

 

महेश भट्ट का कहना है कि यह फिल्म उनके दिल के बेहद करीब है. भट्ट ने बताया, “यह बहुत ही अच्छी फिल्म है. यह आत्मकथा पर आधारित है और इसमें गजब की नाटकीय क्षमता है.”

फिल्म को लेकर तत्कालीन एनडीए सरकार के रूख के बारे में बात करते हुए भट्ट ने बताया, “शुरूआत में मुझे तीन महीने तक इस फिल्म को रिलीज करने के लिए लड़ाई लड़नी पड़ी. लेकिन फिर वही सरकार थी जिसने फिल्म के लीड अभिनेता अजय देवगन को बेस्ट एक्टर के लिए नेशनल अवार्ड और फिल्म को राष्ट्रीय एकता के लिए नेशनल अवार्ड दिया.” 

Bollywood News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Zakhm holds special place in my heart: Mahesh Bhatt
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017