केंद्र में स्थिर सरकार से देश को मिल सकती है 6.5 फीसदी की विकास दर

By: | Last Updated: Wednesday, 2 April 2014 1:42 PM
केंद्र में स्थिर सरकार से देश को मिल सकती है 6.5 फीसदी की विकास दर

नई दिल्ली: कॉरपोरेट सेक्टर का मानना है कि चुनाव के बाद अगर केंद्र में आर्थइक सुधारों को जारी रखने वाली स्थिर सरकार आती है तो देश की अर्थव्यवस्था 6.5 प्रतिशत की ऊंची अर्थव्यवस्था को भी छू सकती है.

 

इकोनॉमिक टाइम्स के मुताबिक सीआईआई के प्रेसिडेंट अजय एस श्रीराम ने कहा, ‘हम ऐसी स्थिति की उम्मीद कर रहे हैं, जो 2016-17 तक ग्रोथ को 8 फीसदी पर ले जा सके. इसके लिए एक स्थिर सरकार की जरूरत होगी, जो आक्रामक तरीके से इकनॉमिक रिफॉर्म्स को लागू करे.’

 

डीसीएम श्रीराम लिमिटेड के चेयरमैन एंड सीनियर मैनेजिंग डायरेक्टर श्रीराम को पिछले शुक्रवार को सीआईआई का प्रेजिडेंट चुना गया था. उनका कहना था, ‘नई सरकार के लिए सबसे महत्वपूर्ण जॉब क्रिएशन और इकनॉमिक ग्रोथ रिवाइव करना होगा.

 

देश में 13 से 35 वर्ष के बीच की उम्र वाले लोगों की संख्या 42.2 करोड़ है और अगर पर्याप्त नौकरियां नहीं होंगी तो देश को कानून और व्यवस्था की गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ेगा.’

 

श्रीराम ने कहा कि अगर मास मैन्युफैक्चरिंग और टूरिज्म, एजुकेशन और कंस्ट्रक्शन जैसे सर्विसेज सेक्टर पर जोर दिया जाए तो प्रत्येक वर्ष लगभग 1.5 करोड़ नौकरियां पैदा की जा सकती हैं. उनका कहना था कि अगर चुनाव में स्पष्ट बहुमत नहीं आता तो इकनॉमिक ग्रोथ 5 फीसदी से कम हो सकती है. उन्होंने कहा, ‘इससे इन्वेस्टर्स का भरोसा टूटेगा और नौकरियों की संख्या घटेगी.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: केंद्र में स्थिर सरकार से देश को मिल सकती है 6.5 फीसदी की विकास दर
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017