जेट ने एतिहाद को 24 फीसदी हिस्सेदारी बेची

By: | Last Updated: Wednesday, 20 November 2013 9:03 AM
जेट ने एतिहाद को 24 फीसदी हिस्सेदारी बेची

<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>नई
दिल्ली:</b> भारतीय विमानन
क्षेत्र में किसी एयरलाइन
में प्रथम प्रत्यक्ष विदेशी
निवेश (एफडीआई) के तहत जेट
एयरवेज ने आज अबू धाबी की
एतिहाद एयरवेज के साथ 2,069
करोड़ रपये के सौदे के पूरा
होने की घोषणा की. सौदे के तहत
एतिहाद ने जेट में 24 फीसद
हिस्सेदारी खरीदी है.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
आज पूरे हुए इस सौदे से जुड़ा
घटनाक्रम इस प्रकार है (14
सितंबर, 2012) मंत्रिमंडल की
आर्थिक मामलांे की समिति
(सीसीईए) ने घरेलू विमानन
कंपनी में विदेशी एयरलाइंस
के 49 फीसद हिस्सेदारी लेने के
प्रस्ताव को मंजूरी दी.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>19 सितंबर, 2012: </b>पूर्व में इस
तरह के किसी कदम का विरोध
करने वाली जेट एयरवेज ने अबू
धाबी की एतिहाद एयरवेज के साथ
अल्पांश हिस्सेदारी बिक्री
के लिए बातचीत शुरू की.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>27 फरवरी, 2013:</b> जेट ने लंदन के
हीथ्रो हवाई अड्डे पर अपने
प्रीमियम स्लाट के तीन जोड़े
एतिहाद को 7 करोड़ डालर में
बेचने की घोषणा की.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>9 अप्रैल, 2013:</b> जेट एयरवेज ने
सरकार को पत्र लिखकर अबू धाबी
के साथ द्विपक्षीय वायु सेवा
करार में बदलाव के लिए बातचीत
शुरू करने का आग्रह किया. साथ
ही उसने साप्ताहिक सीटांे की
क्षमता में तीन गुना बढ़ोतरी
की मांग की.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>22 अप्रैल, 2013: </b>नागर विमानन
मंत्रालय के अधिकारी दोनांे
देशांे के बीच द्विपक्षीय
यातायात अधिकार को बढ़ाने के
लिए बातचीत को अबू धाबी रवाना
हुए.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>24 अप्रैल, 2013: </b>एतिहाद ने जेट
में 24 फीसद हिस्सेदारी 60
करोड़ डालर के सौदे के तहत
करने की मंजूरी दी. उसने जेट
के फ्रीक्वेंट फ्लायर
कार्यक्रम की बहुलांश
हिस्सेदारी भी 15 करोड़ डालर
में करने का प्रस्ताव किया.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>24 मई, 2013: </b>जेट के शेयरधारकांे
ने एयरलाइंस की मुंबई में हुई
असाधारण आम बैठक में 24 फीसद
हिस्सेदारी बिक्री को
मंजूरी दी.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>29 जुलाई, 2013:</b> जेट-एतिहाद सौदे
को विदेशी निवेश संवर्धन
बोर्ड :एफआईपीबी: की मंजूरी
मिली.  <br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>16 सितंबर, 2013 :</b> भाजपा नेता
सुब्रमण्यन स्वामी ने सरकार,
जेट एयरवेज तथा एतिहाद के
खिलाफ उच्चतम न्यायालय में
याचिका दायर करते हुए भारत व
संयुक्त अरब अमीरात के बीच
द्विपक्षीय वायु सेवा करार
को रोकने की मांग की. स्वामी
ने इसमें पारदर्शिता की कमी
तथा भ्रष्टाचार का आरोप
लगाया. शीर्ष अदालत में इस
मामले पर अगले महीने सुनवाई
की संभावना. 1 अक्तूबर, 2013: सेबी
ने इस सौदांे को कुछ शर्तों
के साथ मंजूरी दी.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>4 अक्तूबर, 2013: </b>कैबिनेट ने
जेट के प्रवर्तक नरेश गोयल को
एतिहाद में 24 फीसद
हिस्सेदारी की बिक्री की
अनुमति दी.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>12 नवंबर, 2013:</b> भारतीय
प्रतिस्पर्धा आयोग :सीसीआई:
ने भी सौदे को मंजूरी दी.
सीसीआई के एक सदस्य ने
हालांकि सौदे पर आपत्ति जताई.<br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>20 नवंबर, 2013: </b>जेट एयरवेज तथा
एतिहाद एयरवेज ने जेट की 24
फीसद हिस्सेदारी अबू धाबी की
एयरलाइंस को 2,069 करोड़ रपये
में बेचने का सौदा पूरा किया.
<br />
</p>

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: जेट ने एतिहाद को 24 फीसदी हिस्सेदारी बेची
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017