दंगे कराने वाला शख्स भारत का प्रधानमंत्री कभी नहीं बन सकता: ममता

By: | Last Updated: Saturday, 5 April 2014 4:29 AM
दंगे कराने वाला शख्स भारत का प्रधानमंत्री कभी नहीं बन सकता: ममता

कुल्टी (पश्चिम बंगाल): बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर अब तक का सबसे तीखा हमला बोलते हुए तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने आज कहा कि ‘‘दंगे कराने वाला’’ शख्स भारत का प्रधानमंत्री नहीं बन सकता.

 

यहां एक चुनावी रैली को हिंदी में संबोधित करते हुए ममता ने कहा, ‘‘पैसा देकर प्रचार हो रहा है कि बीजेपी का प्रधानमंत्री बनेगा. जो दंगे कराता है, वह प्रधानमंत्री कभी नहीं बन सकता.’’

 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने मोदी का नाम लिए बगैर कहा, ‘‘पैसे खर्च करके और टीवी पर दिखाई देकर वोट नहीं पाए जा सकते. लोग काफी बुद्धिमान हैं और उन्हें पता है कि किसे वोट करना है.’’

 

बीजेपी को सांप्रदायिक पार्टी करार देते हुए ममता ने कहा, ‘‘बीजेपी हिंदुओं और मुस्लिमों को बांटती है. हम पश्चिम बंगाल में दंगे नहीं होने देंगे. हम शांति से जीना चाहते हैं. हम दंगे कराने वालों को रोकेंगे.’’

 

ममता ने मोदी पर यह तीखा हमला ऐसे समय में किया है जब मीडिया के एक हिस्से में ऐसी खबरें आ रही हैं कि लोकसभा चुनावों के बाद बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस का गठबंधन हो सकता है.

 

गुजरात मॉडल को दरकिनार कर देश के सामने पश्चिम बंगाल का मॉडल होने का दावा करते हुए ममता ने मोदी की तरफ से किए जा रहे दावों की हवा निकालने की कोशिश की है.

 

ममता ने पूछा, ‘‘गुजरात के राजस्व उत्पादन की वृद्धि दर 15 फीसदी है जबकि बंगाल में यह दर 31 फीसदी है. किसका प्रदर्शन बेहतर है?’’

 

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘अखिल भारतीय स्तर पर बाल मृत्यु दर 46 फीसदी है. गुजरात में यह 42 फीसदी है जबकि बंगाल में महज 31 फीसदी है.’’

 

तृणमूल नेता ने कहा, ‘‘मैं देखना चाहूंगी कि यदि केंद्र राज्य सरकार की आय से 76,000 करोड़ रूपए कम कर दे तो वहां की सरकार विकास कैसे करती है.’’ कांग्रेस को भी आड़े हाथ लेते हुए ममता ने दावा किया कि कांग्रेस नहीं बल्कि उनकी पार्टी बीजेपी की ‘‘सांप्रदायिकता’’ को रोकेगी.

 

उन्होंने कहा, ‘‘बीजेपी की सांप्रदायिकता को कांग्रेस नहीं रोक सकती. तृणमूल कांग्रेस ही ऐसा कर सकती है. कांग्रेस और बीजेपी मिलकर काम करते हैं और तेलंगाना विधेयक को पारित कराने के मामले में यह साफ हो गया.’’

 

कांग्रेस को ‘‘भ्रष्ट’’ करार देते हुए ममता ने कहा कि वह पेट्रोल, डीजल और खाद की कीमतों में इजाफे के लिए जिम्मेदार है. ममता ने कहा, ‘‘जब उन्होंने हमारी बात अनसुनी करते हुए खुदरा क्षेत्र में एफडीआई लागू करने का फैसला कर लिया तो हमने यूपीए सरकार छोड़ दी. खुदरा क्षेत्र में एफडीआई से देश के करोड़ों छोटे व्यापारियों की जिंदगी तबाह हो जाती.’’

 

मीडिया को भी आड़े हाथ लेते हुए ममता ने आरोप लगाया, ‘‘कुछ टीवी चैनलों ने मेरे खिलाफ और मेरी पार्टी के खिलाफ मुहिम चलाने के लिए गठजोड़ कर लिया है. वे तृणमूल कांग्रेस में गुटबाजी की काल्पनिक खबरें दिखाते हैं और ममता बनर्जी पर कई तरह के सवाल उठाते हैं.’’

 

बॉलीवुड स्टार और तृणमूल कांग्रेस के नवनिर्वाचित राज्यसभा सदस्य मिथुन चक्रवर्ती ने बीजेपी के ‘हर-हर मोदी’ नारे पर निशाना साधते हुए ममता के पक्ष में एक नया नारा ‘घर-घर दीदी, बार-बार दीदी’ गढ़ा.

 

मिथुन ने कहा, ‘‘एक ओपिनियन पोल में बताया गया कि तृणमूल कांग्रेस 28 सीटें जीतेगी, वाम दलों को 10 सीटें मिलेगी, कांग्रेस के खाते में तीन जबकि अन्य को एक सीट मिलेगी. निश्चित तौर पर तृणमूल कांग्रेस को बढ़त है.’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘पर मैं आपको बता दूं कि लोकसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस 38 सीटें जीते या 42 सीटें जीते, पर यह दिल्ली में पश्चिम बंगाल की आवाज बुलंद करने में मददगार साबित होगा.’’

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: दंगे कराने वाला शख्स भारत का प्रधानमंत्री कभी नहीं बन सकता: ममता
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017