नीतिगत मोर्चे पर ढिलाई के लिए कैग, सीवीसी जिम्मेदार नहीं: राय

By: | Last Updated: Saturday, 21 June 2014 3:36 PM

नई दिल्ली: नीतिगत मोर्चे पर ढिलाई के लिए जांच व आडिटिंग एजेंसियों को जिम्मेदार ठहराए जाने की अवधारणों को खारिज करते हुए पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक :कैग: विनोद राय ने आज कहा कि अगर मौके व अधिकार मिलें तो नौकरशाह भी काम कर सकते हैं.

 

राय ने यहां एक कार्य्रकम में कहा,’ सीबीआई, सीवीसी या कैग आदि आदि के कारण नीतिगत मोर्चे पर ढिलाई :पालिसी पैरालसिस: की सारी कहानियां महज एक हौवा है. ये सब काम नहीं करने के बहाने हैं.’ उन्होंने कहा,’ मौका व अधिकार मिलन के बाद भी नौकरशाह काम नहीं करे इसका कोई कारण नहीं है. अगर उनसे कहा जाए कि आगे बढकर काम करो तो उनमें क्षमता है.’ उल्लेखनीय है कि पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने जांच एजंेसियों व कैग की अपनी सीमाओं के’ उल्लंघन’ के लिए कड़ी आलोचना की थी.

 

नरेंद्र मोदी के प्रशासनिक कौशल की प्रशंसा करते हुए राय ने कहा,’ अब यह कहानी सामने आ रही है कि प्रशासन वह मौका देने की इच्छा रखता है.’ उन्होंने कहा कि दीर्घकालिक वृद्धि दर तब तक कायम नहीं रहेगी जब तक कि इसे शासन पोषित नहीं करे.

 

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री पद संभालने के बाद मोदी ने अधिकारियों को वैध फैसलों के लिए उन्हें पूरी तरह संरक्षण देने का आश्वासन दिया था.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: नीतिगत मोर्चे पर ढिलाई के लिए कैग, सीवीसी जिम्मेदार नहीं: राय
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017