मोबाइल नंबर प्रोर्टेबिलिटी के लिए नौ करोड़ आवेदन

By: | Last Updated: Wednesday, 16 October 2013 12:25 AM

<p style=”text-align: justify;”>
<b>नई
दिल्ली: </b>मोबाइल नंबर
प्रोर्टेबिलिटी (एमएनपी) के
तहत जुलाई, 2013 के अंत तक लगभग 9.782
करोड़ उपभोक्ताओं ने
विभिन्न सेवा प्रदाताओं से
अपना मोबाइल नंबर बदलने का
अनुरोध किया. <br /><br />यह जानकारी
संचार और सूचना
प्रौद्योगिकी मंत्रालय
द्वारा मंगलवार को जारी
आंकड़ों से मिली. दूर-संचार
नियमन प्राधिकरण (ट्राई)
द्वारा 31 जुलाई, 2013 तक जारी
आकंड़ों के अनुसार एमएनपी
जोन-1 (उत्तर और पश्चिम भारत)
में सबसे अधिक राजस्थान से (95.8
लाख) लोगों ने नंबर बदलने का
अनुरोध किया. इसके बाद गुजरात
से (83.3 लाख ) लोगों ने नंबर
बदलने का अनुरोध किया.<br /><br />एमएनपी
जोन-2 (दक्षिणी और पूर्वी भारत)
में सबसे अधिक कर्नाटक से (1.145
करोड़) लोगों ने आवेदन किया
है. इसके बाद आन्ध्र प्रदेश
में (89 लाख) लोगों ने नंबर
बदलने का अनुरोध किया.<br /><br />जुलाई,
2013 महीने में मोबाइल नंबर
बदलने के लिए आवेदन करने वाले
उपभोक्ताओं की कुल संख्या 22.3
लाख रही.<br />
</p>

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: मोबाइल नंबर प्रोर्टेबिलिटी के लिए नौ करोड़ आवेदन
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017