जेट, इंडिगो और स्पाइसजेट पर 257.71 करोड़ रुपये का जुर्माना

By: | Last Updated: Tuesday, 17 November 2015 2:19 PM
CCI fines Rs 256 crore on Jet Airways, IndiGo, SpiceJet for fuel surcharge

नई दिल्ली: कार्गो ट्रांसपोर्ट के लिए गुट बनाकर हवाई ईंधन सरचार्ज तय करने के आरोप में भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (कॉम्पटिशन कमीशन) ने तीन एय़रलाइन कम्पनियों पर जुर्माना लगाया है. हालांकि शिकायत में एयर इंडिया और गो को भी शामिल किया गया था, लेकिन उन पर आरोप साबित नहीं हुए.

 

एक्सप्रेस इंडस्ट्री काउंसिल की याचिका पर सुनवाई के बाद आयोग ने मंगलवार को अपना अंतिम फैसला सुनाया. इसके मुताबिक, जेट एयरवेज को 151.69 करोड़ रुपये इंडिगो पर 63.74 करोड़ रुपये और स्पाइसजेट पर 42.48 करोड़ रुपये का जुर्माना लगा. ये कार्रवाई प्रतिस्पर्धा कानून, 2002 की धारा 3 के उल्लंघन के आरोप में की गयी है. ध्यान रहे कि इस धारा के तहत प्रतिस्पर्धा के विरूद्ध कम्पनियों की गुटबंदी पर लगाम की सूरत में कार्रवाई का प्रावधान है.

 

आयोग ने पाया एयरलाइन कम्पनियां गुट बनाकर एक समान तरीके से हवाई ईंधन पर सरचार्च तय कर रही थी. इसका परोक्ष तौर पर एयर कार्गो ट्रांसपोर्ट की दर पर भी असर पड़ा. इस तरह के प्रयास स्वस्थ्य मुकाबला करने के माहौल के विपरित है और यही आयोग के फैसले का आधार बना. आयोग ने जहां पाया कि एयर इंडिया गुट बनाकर काम नहीं कर रही, वही गो के मामले में ये पाया गया कि उसके हवाई जहाज पर कोई बाहरी कम्पनी कार्गो बुक करती है और वही हवाई ईंधन सरचार्च भी लगाती है. इस तरह एयर इंडिया और गो पर जुर्माना नहीं लगाया गया.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: CCI fines Rs 256 crore on Jet Airways, IndiGo, SpiceJet for fuel surcharge
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Jet airways SpiceJet
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017