सिगरेट मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों के लिए मुश्किलः काउंसिल ने बढ़ाया सिगरेट पर सेस

दरअसल जीएसटी लागू होने के बाद सिगरेट पर 28 फीसदी टैक्स लग रहा था जो पुराने दर के मुकाबले 8 फीसदी कम थी. जीएसटी लागू होने के बाद एक्साइज ड्यूटी खत्म हो गई थी, जिससे सिगरेट सस्ती हुई थी.

By: | Last Updated: Monday, 17 July 2017 10:39 PM
cess on cigarette hiked by GST council, Higher cess on Cigarettes to be effective midnight

नई दिल्लीः 1 जुलाई को जीएसटी लागू होने के बाद आज पहली जीएसटी परिषद की बैठक में सिगरेट, टैक्सटाइल जैसे प्रोडक्ट्स पर टैक्स की दरें तय की गई हैं. जिसके बाद सिगरेट पर सेस में बढ़ोतरी कर दी गई है पर सरकार के इस फैसले सिगरेट की खुदरा कीमतों में बढ़ोतरी नहीं होगी. GST दरों के बाद मैन्युफैक्चरर्स को होने वाले उम्मीद से अधिक फायदे को देखते हुए सरकार ने सिगरेट पर लगने वाले सेस को बढ़ाया है. नई दरें सोमवार आधी रात यानी आज रात 12 बजे से लागू हो जाएंगी.

 

समझें सिगरेट पर सेस क्यों बढ़ाया गया है?
वित्त मंत्रालय ने कहा कि सेस बढ़ाने का ये मतलब नहीं है कि सिगरेट महंगी की गई है. सिगरेट के दाम बढेंगे नहीं जैसा कहा जा रहा है. आज के फैसले के मुताबिक सिगरेट पर सेस बढाकर जीएसटी के पहले के बराबर टैक्स की दरें की गई हैं. पहले टैक्स की प्रभावी दरें कम थी जिसे आज सेस बढ़ाकर एक समान किया गया है. दरअसल जीएसटी लागू होने के बाद सिगरेट पर 28 फीसदी टैक्स लग रहा था जो पुराने दर के मुकाबले 8 फीसदी कम थी. जीएसटी लागू होने के बाद एक्साइज ड्यूटी खत्म हो गई थी, जिससे सिगरेट सस्ती हुई थी.

दरअसल जीएसटी काउंसिल ने जीएसटी लागू होने के बाद सिगरेट कंपनियों को हुए फायदे को खत्म करने और खुद के एक्स्ट्रा रेवेन्यू के मकसद से सिगरेट पर सेस बढ़ाया है. इसके साथ ही सिगरेट के नए इसके साथ ही सिगरेट के नए रेट आज रात से लागू हो जाएंगे. इस फैसले से सरकार को 5 हजार करोड़ रुपए का अतिरिक्त रेवेन्यू मिलेगा जो अभी तक मैन्युफैक्चरर्स के खाते में जा रहा था.

 

जीएसटी रेट्स में सिगरेट पर लगने वाले जीसएटी की दर को 28 फीसदी और वैलोरम को 5 फीसदी की दर पर बरकरार रखा है. लेकिन फिक्स्ड सेस की दर को 485 रुपये से बढ़ाकर 792 रुपये किया है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बताया कि सिगरेट पर 28 फीसदी जीएसटी के अलावा 5 फीसदी ऐड वेलोरम टैक्स चुकाना होगा. इसके बाद सिगरेट की लंबाई के आधार पर अतिरिक्त सेस वसूला जाएगा. अरुण जेटली ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस बैठक की अगुवाई की थी. जीएसटी काउंसिल ने सिगरेट के लिए 28 फीसदी की दर तय की थी जो जीएसटी रेट्स में अधिकतम है.

जानें सिगरेट पर सेस की नई दरें
65 मिलीमीटर तक लंबी सिगरेट पर लगने वाले सेस को बढ़ाकर 485 रुपये कर दिया है.
65 मिमी से लंबी सिगरेट पर लगने वाले सेस की दर को बढ़ाकर 792 रुपये कर दिया गया है.
सेस की यह रकम प्रति 1000 सिगरेट पर वसूली जाएंगी.

हालांकि वित्त मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि सेस की दरों में बढ़ोतरी से ग्राहकों को ज्यादा कीमत का भुगतान नहीं करना चाहिए.

टेक्सटाइल के ऊपर जीएसटी रेट्स में कोई बदलाव नहीं
वहीं टेक्सटाइल के ऊपर जीएसटी रेट्स में कोई बदलाव नहीं किया गया है. जीएसटी काउंसिल की अगली बैठक अगले महीने अगस्त के पहले हफ्ते में होगी. इसके अलावा ये भी बताया गया है कि अभी तक जीएसटी के तहत 75 लाख लोगों ने रजिस्ट्रेशन करा लिया है. वहीं 2.5 लाख लोगों को अगले 3 दिनों के भीतर जीएसटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की मंजूरी मिल जाएगी.

ये भी हैं आपके काम की खबरें

 

RELIANCE पहली बार बनी 5 लाख करोड़ रुपये की कंपनी: हासिल किया नया मुकाम

 

उज्ज्वला स्कीम का आधा लक्ष्य पूराः 2.5 करोड़ परिवारों तक पहुंचा मुफ्त LPG कनेक्शन

 

ट्रेन टिकट बुक कराने वालों के लिए GOOD NEWS: सितंबर तक खरीदें बिना सर्विस चार्ज के टिकिट्स

 

रेलवे ने लॉन्च किया सारथी एप, जानें इससे यात्रियों को मिलेगी कौन-कौन सी सुविधाएं?

 

पुराने नोट जमा कराएं हैं तो सावधान ! इतने लाख लोगों पर Income Tax विभाग की है पैनी नजर

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: cess on cigarette hiked by GST council, Higher cess on Cigarettes to be effective midnight
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

क्या घटने वाली हैं इनकम टैक्स की दरें? वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दिया संकेत !
क्या घटने वाली हैं इनकम टैक्स की दरें? वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दिया संकेत !

नई दिल्लीः आयकर (इनकम टैक्स) की दरें कम हो सकती है. खुद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इसके संकेत दिए...

आम्रपाली बिल्डर को झटकाः कंपनी के CEO रितिक कुमार, एमडी निशांत मुकुल गिरफ्तार
आम्रपाली बिल्डर को झटकाः कंपनी के CEO रितिक कुमार, एमडी निशांत मुकुल गिरफ्तार

नई दिल्लीः आम्रपाली ग्रुप के सीईओ रितिक कुमार सिन्हा और कंपनी के डायरेक्टर निशांत मुकुल को आज...

GOLD के दाम में हल्की तेजीः चांदी की कीमत में दिखी गिरावट
GOLD के दाम में हल्की तेजीः चांदी की कीमत में दिखी गिरावट

नई दिल्ली: सोने-चांदी के भाव में लगातार उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है. आज दिल्ली सर्राफा बाजार में...

 ऑलटाइम हाई पर बंद मार्केटः निफ्टी पहली बार 9950 के पार, सेंसेक्स 32,245 पर बंद
ऑलटाइम हाई पर बंद मार्केटः निफ्टी पहली बार 9950 के पार, सेंसेक्स 32,245 पर बंद

नई दिल्लीः घरेलू शेयर बाजार में लगातार कई दिनों से उछाल का सिलसिला जारी है और आज फिर स्टॉक...

GST: कंपोजीशन स्कीम अपनाने के लिये कारोबारियों को 16 अगस्त तक का समय
GST: कंपोजीशन स्कीम अपनाने के लिये कारोबारियों को 16 अगस्त तक का समय

नई दिल्ली: सरकार ने माल एवं सेवाकर (जीएसटी) व्यवस्था के तहत कारोबारियों के लिये कर भुगतान की...

JIO के फीचर फोन को किसी भी टेलिविजन सेट से जोड़ें: वीडियो देखें
JIO के फीचर फोन को किसी भी टेलिविजन सेट से जोड़ें: वीडियो देखें

नई दिल्लीः आम मोबाइल हैंडसेट यानी फीचर फोन पर भी इंटरनेट की सुविधाएं मिलेंगी. साथ ही इस नए...

चांदी में आई जोरदार तेजीः सोने के दाम में नहीं दिखा बदलाव
चांदी में आई जोरदार तेजीः सोने के दाम में नहीं दिखा बदलाव

नई दिल्ली: लगातार कई दिनों से सोने-चांदी के दामों में उतार-चढ़ाव दिख रहा है. सर्राफा बाजार में आज...

नोटबंदी, GST से बढ़ेगा टैक्स बेस, नकद में लेनदेन होगा मुश्किल: वित्त मंत्री
नोटबंदी, GST से बढ़ेगा टैक्स बेस, नकद में लेनदेन होगा मुश्किल: वित्त मंत्री

नई दिल्ली: वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज कहा कि नोटबंदी के बाद और जीएसटी आने से कैश में लेनदेन...

सीएम का भरोसा भी ना आया काम, TCS ने लखनऊ को कहा 'टाटा'
सीएम का भरोसा भी ना आया काम, TCS ने लखनऊ को कहा 'टाटा'

लखनऊ: टीसीएस ने मुख्यमंत्री के आश्वासन को दरकिनार करते हुए सेंटर को नोयडा ले जाने का मन बना...

क्या जल्द बदलेगा वित्त वर्ष का कैलेंडरः सरकार ने दिया ये जवाब
क्या जल्द बदलेगा वित्त वर्ष का कैलेंडरः सरकार ने दिया ये जवाब

नई दिल्लीः सरकार ने आज कहा कि वित्त वर्ष को बदलने और इसे जनवरी महीने से शुरू कर इसे कैलेंडर इयर...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017