रिजर्व बैंक ने क्रेडिट कार्ड बिलिंग के नियम कड़े किए

By: | Last Updated: Thursday, 16 July 2015 5:15 PM
Credit Card_

नई दिल्ली: रिजर्व बैंक ने आज क्रेडिट कार्ड के बिलिंग नियमों को कड़ा कर दिया. इसके तहत केंद्रीय बैंक ने बैंकों को निर्देश दिया है कि वे क्रेडिट कार्ड उपभोक्ताओं पर देरी से भुगतान के लिए तभी जुर्माना लगाएं या इसे क्रेडिट सूचना कंपनियों को तभी रिपोर्ट करें, जबकि भुगतान तीन दिन से अधिक समय से बकाया हो.

 

रिजर्व बैंक ने कहा कि बैंक किसी क्रेडिट कार्ड को उस स्थिति में गैर निष्पादित आस्तियां (एनपीए) घोषित कर सकते हैं जब न्यूनतम बकाया राशि की अदायगी, भुगतान की तारीख से 90 दिन के अंदर नहीं की गई हो.

 

रिण में अनुशासन के लिए क्रेडिट कार्ड जारीकर्ताओं को अधिक परिचालनगत लचीलापन देने के लिए रिजर्व बैंक ने कहा कि किसी क्रेडिट कार्ड खाते की पिछले बकाये की स्थिति की गणना मासिक क्रेडिट कार्ड विवरण में लिखित भुगतान की तारीख से गिनी जाएगी.

 

रिजर्व बैंक की अधिसूचना में कहा गया है कि बैंकों के मामले में क्रेडिट कार्ड खाते को तभी गैर निष्पादित आस्ति माना जाएगा, जबकि विवरण में उल्लेखित न्यूनतम बकाया राशि का पूर्ण भुगतान, अदायगी की तारीख के 90 दिन के अंदर न किया गया हो.

 

केंद्रीय बैंक ने कहा है कि क्रेडिट कार्ड खातों में खर्च की गई राशि बिल के रूप में उपभोक्ताओं को मासिक स्टेटमेंट के जरिये भेजी जाएगी और उसमें भुगतान की निश्चित तारीख का उल्लेख होगा.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Credit Card_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: credit card RBI
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017