अब बड़े अक्षरों में दवाओं का पर्चा लिखेंगे डाक्टर

By: | Last Updated: Thursday, 11 June 2015 2:12 PM

नई दिल्ली: डाक्टरों द्वारा मेडिकल प्रिसक्रिप्शन में लिखे गए अपठनीय लिखावट के कारण गलत दवाओं का डर जल्द ही समाप्त होने वाला है क्योंकि सरकार डाक्टरों द्वारा दवाओं का पर्चा ‘‘तरजीही तौर पर’’ बड़े अक्षरों में लिखने को नियम बनाने जा रही है.

 

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय भारतीय एमसीआई नियमन के तहत एक अधिसूचना लाने वाला है जो डाक्टरों के लिए दवाओं का पर्चा बड़े अक्षरों में ‘‘पढ़ने लायक’’ स्थिति में लिखना और दवाओं का जेनेरिक नाम लिखना अनिवार्य बनाएगी.

 

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘स्वास्थ्य मंत्रालय एमसीआई नियमन के तहत राजपत्रित अधिसूचना लाएगा. इसके तहत, दवा का पर्चा पठनीय होना चाहिए और तरजीही रूप से यह बड़े अक्षरों में लिखा जाए तथा जेनेरिक दवाओं के नाम भी साथ में लिखे जाएं.’’ सूत्रों ने कहा कि मंत्रालय द्वारा एक सप्ताह के भीतर इस तरह की अधिसूचना जारी की जा सकती है.

 

स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि दवाओं का पर्चा बड़े अक्षरों में पढ़ने लायक लिखे जाने से मरीजों तथा दुकानदारों को बहुत फायदा होगा जिन्हें दवाओं के बारे में स्पष्ट रूप से पता चल जाएगा.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: doctor prescription
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

GST के बाद रेंस्टोरेंट बिल में दिख रहे हैं SGST, CGST अलग-अलगः जानें क्यों
GST के बाद रेंस्टोरेंट बिल में दिख रहे हैं SGST, CGST अलग-अलगः जानें क्यों

नई दिल्लीः जैसा कि आप जानते ही हैं कि 1 जुलाई से जीएसटी लागू हो चुका है यानी एक देश-एक टैक्स की...

सेंसेक्स में 300 अंकों का शानदार उछाल, निफ्टी फिर 10,000 के करीब
सेंसेक्स में 300 अंकों का शानदार उछाल, निफ्टी फिर 10,000 के करीब

नई दिल्लीः आज शेयर बाजार में शानदार उछाल के साथ कारोबार बंद हुआ है. सेंसेक्स और निफ्टी दोनों...

कितने सुरक्षित है स्मार्टफोन हैंडसेट, बताएं मोबाइल हैंडसेट मुहैया कराने वाली कंपनियां
कितने सुरक्षित है स्मार्टफोन हैंडसेट, बताएं मोबाइल हैंडसेट मुहैया कराने...

नई दिल्लीः चीन से तकनीकी खतरे की आशंका के मद्देनजर सरकार ने भारतीय बाजारो में स्मार्टफोन...

जेपी विवाद पर बोले वित्त मंत्री: 'जिन लोगों ने पैसा लगाया है, उन्हें फ्लैट मिलना चाहिए'
जेपी विवाद पर बोले वित्त मंत्री: 'जिन लोगों ने पैसा लगाया है, उन्हें फ्लैट...

नई दिल्लीः एनसीआर में जेपी इंफ्राटेक के प्रोजेक्ट्स में घर खरीदारों के लिए थोड़ी राहत की किरण...

हिमाचल के लोगों को तोहफाः सरकार ने डीए में 4 फीसदी बढ़ोतरी का ऐलान किया
हिमाचल के लोगों को तोहफाः सरकार ने डीए में 4 फीसदी बढ़ोतरी का ऐलान किया

हिमाचल: हिमाचल प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को आज राज्य सरकार ने तोहफा दिया है. हिमाचल प्रदेश...

नोटबंदी के बाद लोन हुए सस्ते, बैंकों की ब्याज दरें घटीं: पीएम मोदी
नोटबंदी के बाद लोन हुए सस्ते, बैंकों की ब्याज दरें घटीं: पीएम मोदी

नई दिल्ली: आज स्वतंत्रता दिवस पर देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि...

सहारा को झटकाः एंबी वैली प्रोजेक्ट की नीलामी शुरू, रिजर्व प्राइस 37,392 करोड़ रुपये
सहारा को झटकाः एंबी वैली प्रोजेक्ट की नीलामी शुरू, रिजर्व प्राइस 37,392 करोड़...

नई दिल्लीः सहारा समूह के लिए आज बड़े झटके की खबर है. सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के 3 दिन बाद आज...

जेपी इंफ्रा की संपत्ति बेच अटकी परियोजनाएं पूरी करने की संभावनाएं खंगालने में जुटी सरकार
जेपी इंफ्रा की संपत्ति बेच अटकी परियोजनाएं पूरी करने की संभावनाएं खंगालने...

नई दिल्लीः राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा और ग्रेटर नोएडा में जेपी इंफ्राटेक के घर...

जुलाई में थोक मंहगाई दर 1.88 फीसदी बढ़ी, खाने-पीने की चीजें हुईं महंगी
जुलाई में थोक मंहगाई दर 1.88 फीसदी बढ़ी, खाने-पीने की चीजें हुईं महंगी

नई दिल्लीः देश के थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित महंगाई दर जुलाई में बढ़कर 1.88 फीसदी रही. वाणिज्य...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017