ई-कामर्स कंपनियों की छूट से बुरी तरह प्रभावित हो रहा है ऑफलाइन बाजार : कैट

By: | Last Updated: Monday, 6 October 2014 4:32 PM

नयी दिल्ली: ई-कामर्स कंपनियों द्वारा दी जा रही भारी छूट पर चिंता जताते हुए व्यापारियों के एक प्रमुख संगठन ने वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय से ऑनलाइन कारोबार की निगरानी व नियमन की मांग की है.

 

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री निर्मला सीतारमण को लिखे पत्र में कनफेडरेशन आफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने देश में ई-कामर्स कारोबार के लिए नियामक प्राधिकरण बनाने की मांग की है.

 

पत्र में कहा गया है कि विभिन्न ऑनलाइन कंपनियां पिछले तीन दिन के दौरान 20 से 70 फीसद की छूट की पेशकश कर रही हैं. वहीं व्यापारियों को वही उत्पाद कहीं उंची कीमत पर बेचना पड़ रहा है क्यों कि उनका खरीद मूल्य कहीं अधिक है.

 

खंडेलवाल ने कहा कि यह गंभीर मामला है और इससे ऑफलाइन बाजार बुरी तरह प्रभावित हो रहा है. उन्होंने कहा कि यह एक तरह से बाजार को बिगाड़ने वाले मूल्य का मामला है और इस पर नियंत्रण के लिए आवश्यक कदम उठाए जाने की जरूरत है.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: e-commerce_bussiness_flipcart_snapdeal
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: bussiness E commerce flipcart snapdeal
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017