बजट 2017 सिर्फ एक पटाखा, किसानों, मजदूरों के लिए कुछ नहीं: पी चिदंबरम

former finance minister p Chidambaram said Budget is Damn Squib

नई दिल्लीः कल देश के आम बजट 2017 के पेश होने के बाद जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर सभी मंत्री वित्त मंत्री की तारीफ कर रहे हैं. वहीं पूर्व वित्त मंत्री और इकोनॉमी के जानकार पी चिदंबरम ने बजट को सिर्फ एक पटाखा करार दिया है जो सिर्फ शोर करता है. आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में चिदंबरम ने बजट पर उनकी क्या राय है ये बताते हुए कहा कि मौजूदा सरकार के पास इकोनॉमी के मुख्य वर्गों के लिए कोई प्लान, कोई योजना नहीं है. पी चिदंबरम ने कहा कि बजट में 1-2 चीजें ही अच्छी हैं जैसे वित्त मंत्री जेटली निवेश नियमों में नरमी लाने की बात कर रहे हैं.

नोटबंदी के बाद पी चिदंबरम क्या करते अगर वो वित्त मंत्री होते?
इस सवाल के जवाब में पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि नोटबंदी के वक्त अगर वो वित्त मंत्री होते वो 9 नवंबर को ही पद से इस्तीफा दे देते. पी चिदंबरम ने कहा कि वो खुश हैं कि उनकी यूपीए की सरकार द्वारा चलाई गई स्कीमों को मौजूदा सरकार लागू कर रही है और इसकी उन्हें खुशी है. वित्त मंत्री ने राज्यों के लिए कुछ ना किए जाने की आलोचना करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी कहा है कि इस बजट में युवाओं के लिए रत्ती भर भी अच्छी खबर नहीं है. आज देश में फिर से इंस्पेक्टर राज कायम होता दिख रहा है.

नोटबंदी के चलते किसानों, मजदूरों, मिस्त्री, गरीब वर्ग को करोड़ों रुपये का घाटा हुआ लेकिन बजट में इनके लिए एक भी ऐलान ना आना निराशा पैदा करता है. अरुण जेटली ने बजट में एक बार भी एमएसपी शब्द का इस्तेमाल नहीं किया जिसकी चलते कृषि सेक्टर के साथ बड़ा धोखा हुआ है. वहीं रोजगार और नौकरी पैदा करने के लिए बजट में एक भी योजना नहीं आई. नोटबंदी के बाद देश की गिरती ग्रोथ को बढ़ाने के लिए कुछ भी ऐलान नहीं हुए.

टैक्स घटाने पर क्या बोले पी चिदंबरम?
टैक्स दरों में कटौती बहुत ही मामूली है जिसका स्वागत है लेकिन नोटबंदी के बाद एटीएम-बैंकों की लाइनों में खड़े लोगों को हुए कष्ट के सामने ये राहत कुछ नहीं है. मौजूदा सरकार ने वित्तीय चतुराई दिखाते हुए आंकड़ों की बाजीगरी की है जिससे देश की आर्थिक हालत की वास्तविक स्थिति का पता नहीं चलता. इनकम टैक्स एक्ट में इस बार 85 बदलाव किए गए हैं जिन्हें समझना आम जनता के बस में नहीं है. डायरेक्ट टैक्स कोड का ड्राफ्ट भी अपडेट करना चाहिए था पर ऐसा नहीं हुआ. वहीं सरकार द्वारा दिए जीएसटी के आंकड़ें भी निराश करते हैं. वित्त मंत्री अरुण जेटली को फसल बीमा जैसे मुद्दे पर भी कुछ ऐलान करने चाहिए थे जो बजट से नदारद होने से किसान निराश हुए हैं.

बजट की इन बातों की तारीफ की
पी चिदंबरम ने कहा कि बजट में अच्छी बातों के नाम पर 2-3 मुद्दे ही हैं जैसे 3 लाख से ऊपर कैश ट्रांजेकेशन पर रोक, राजनीतिक पार्टियों को 2000 रुपये से ज्यादा कैश चंदे पर रोक, इलेक्शन बॉन्ड आदि की तारीफ की जा सकती है. वहीं हाउसिंग के अतिरिक्त कैपिटल गेन टैक्स से जुड़ी राहत देने के लिए अरुण जेटली को बधाई देनी चाहिए. 500 से ज्यादा पोस्ट ग्रेजुएट सीटें, दिव्यांगों के लिए अतिरिक्त सुविधाओं का स्वागत किया जाना चाहिए और ये अच्छे ऐलान हैं जो राहत देंगे. लेकिन कुल मिलाकर ये बजट एक पटाखा बजट है जिसमें सिर्फ शोर हासिल हुआ है.

Budget News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: former finance minister p Chidambaram said Budget is Damn Squib
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

तमिलनाडु सरकार ने पेश किया 16 हजार करोड़ रुपए के राजस्व घाटे का बजट
तमिलनाडु सरकार ने पेश किया 16 हजार करोड़ रुपए के राजस्व घाटे का बजट

चेन्नई: तमिलनाडु सरकार ने आज फाइनेंशियल ईयर 2017-18 के लिए करीब 16 हजार करोड़ रुपए के राजस्व घाटे का...

रेल बजट को आम बजट में मिलाने के ये बड़े नुकसान हुए जो नहीं जानते आप !
रेल बजट को आम बजट में मिलाने के ये बड़े नुकसान हुए जो नहीं जानते आप !

नई दिल्लीः कल देश के आम बजट में वित्त मंत्री ने रेल बजट के नाम पर जो चंद ऐलान किए उससे रेल बजट को...

Deatils: इनकम टैक्स में छूट से लेकर सस्ता-महंगा तक, जानें- मोदी सरकार के बजट से आपको क्या मिला
Deatils: इनकम टैक्स में छूट से लेकर सस्ता-महंगा तक, जानें- मोदी सरकार के बजट से...

नई दिल्ली: नोटबंदी के बाद सबसे ज्यादा परेशान मिडिल क्लास को इस बार के बजट में बड़ी राहत दी गई है....

BUDGET 2017: 125 करोड़ भारतीयों में सिर्फ 76 लाख की सैलरी 5 लाख से ज्यादा !
BUDGET 2017: 125 करोड़ भारतीयों में सिर्फ 76 लाख की सैलरी 5 लाख से ज्यादा !

नई दिल्ली: 125 करोड़ भारतीयों के देश में 5 लाख से ज्यादा आय वाले सिर्फ 76 लाख लोग हैं. आपको ये आंकड़ा...

फिर भी ई-टिकट महंगा रहेगा खिड़की टिकट से!
फिर भी ई-टिकट महंगा रहेगा खिड़की टिकट से!

नई दिल्लीः केंद्र सरकार द्वारा आम बजट के जरिए ई-रेल टिकट पर लगने वाले सेवा कर (सर्विस टेक्स) को...

बजट से युवाओं को क्या मिला? ये जवाब आपको खुश करेंगे
बजट से युवाओं को क्या मिला? ये जवाब आपको खुश करेंगे

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के बजट को सभी वर्गों के लिए काम का बजट बताया हैं....

मोदी सरकार के बजट पर जमकर बरसे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी
मोदी सरकार के बजट पर जमकर बरसे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी

नई दिल्ली: साल 2017 के बजट को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सरकार पर जमकर बरसे हैं. वित्त...

BUDGET 2017: रेलवे के लिए हुए ये बड़े ऐलान जिनसे बदलेगी रेलवे की सूरत
BUDGET 2017: रेलवे के लिए हुए ये बड़े ऐलान जिनसे बदलेगी रेलवे की सूरत

नई दिल्लीः देश के बजटीय इतिहास में पहली बार रेल बजट और आम बजट एक साथ पेश किए गए हैं. वित्त मंत्री...

BUDGET 2017: रक्षा के लिए 2,74,114 करोड़ रुपये के आवंटन की घोषणा
BUDGET 2017: रक्षा के लिए 2,74,114 करोड़ रुपये के आवंटन की घोषणा

नई दिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को बजट पेश करने के दौरान रक्षा के लिए 2,74,114...

जानें- बजट के बाद क्या हुआ सस्ता और क्या हुआ महंगा
जानें- बजट के बाद क्या हुआ सस्ता और क्या हुआ महंगा

नई दिल्ली: मोदी सरकार ने आज अपना चौथा बजट पेश कर दिया है. आज बजट पेश करते हए वित्त मंत्री ने कई...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017