नकारात्मक वैश्विक संकेतों के बाद विदेशी निवेशकों ने की बिकवाली

By: | Last Updated: Saturday, 11 October 2014 4:44 PM

मुंबई: नकारात्मक वैश्विक संकेतों और धीमी घरेलू सुधार की वजह से विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने 10 अक्टूबर को समाप्त हुए लगातार दूसरे सप्ताह में भारतीय शेयर बाजार में शुद्ध रूप से बिकवाली की.

 

नेशनल सिक्युरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड (एनएसडीएल) द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, एफपीआई ने 10 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह के दौरान 1,231.28 करोड़ रुपये के शेयरों की भारी बिकवाली की. एफपीआई ने इस समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान मात्र 306.42 करोड़ रुपये की लिवाली की.

 

एफपीआई ने हालांकि शुक्रवार को शुद्ध रूप से लिवाली की. 10 अक्टूबर को उसने 13.98 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे. बीते एक अक्टूबर को समाप्त सप्ताह में एफपीआई ने 44.532 करोड़ डॉलर 653.95 करोड़ रुपये के शेयर की बिकवाली की थी.

 

बीते 26 सितंबर को खत्म हुए सप्ताह में एफपीआई ने 2,487.02 करोड़ रुपये के शेयरों की बिकवाली की थी, जबकि केवल 458.34 करोड़ रुपये के शेयरों की लिवाली की थी.

 

पिछले 19 सितंबर को खत्म हुए सप्ताह में एफपीआई ने 2,159.67 करोड़ रुपये के शेयरों की लिवाली की, जिसके कारण बाजार को नई ऊंचाई मिली थी.

 

एनएसडीएल के मुताबिक, विदेशी निवेश की देश के आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका होती है. अनुपालन संबंधी जरूरतों को सरल करने और विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई), उप खातों और क्वालिफाइड फॉरेन इन्वेस्टर (क्यूएफआई) जैसे विभिन्न विदेशी निवेशक श्रेणियों के लिए जारी किए जाने वाले दिशा-निर्देशों में समानता के लिए इन सभी को एक नए निवेशक वर्ग एफपीआई में मिला दिया गया है.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: fpi-bussiness
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ABP bussiness FPI
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017