त्योहारी मांग से लौटी सोने की चमक, 590 रूपये चढ़कर 27,550 रूपये हुआ

By: | Last Updated: Friday, 26 September 2014 12:21 PM

नई दिल्ली: शादी-विवाह एवं त्योहारी मांग बढ़ने से राष्ट्रीय राजधानी में आज सोने का भाव 590 रूपये उछलकर 27,550 रूपये प्रति 10 ग्राम हो गया. सिक्के निर्माताओं और औद्योगिक इकाइयों की मांग बढ़ने से दिल्ली सर्राफा बाजार में आज चांदी भी 550 रूपये बढ़कर 39,000 रूपये प्रति किलो हो गई.

 

कारोबारियों ने बताया कि ‘नवरात्रि’ में आभूषण निर्माताओं एवं फुटकर विक्रेताओं की मांग निकलने से सोने के भाव में तेजी आई. हिन्दु रीति रिवाजों के अनुसार ‘नवरात्रि’ में सोने-चांदी अथवा सिक्कों की खरीदारी शुभ मानते हैं. स्थानीय सर्राफा बाजार में आज सोने का भाव 590 रूपये उछल गया. इससे पहले 20 जून को सोना 605 रूपये चढ़कर 28,625 रूपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच था.

 

मध्य पूर्व एशिया में तनाव बढ़ने के बीच वैश्विक बाजार में तेजी के रख से भी सोने की कीमतों में तेजी आई. हालांकि, रूपये की विनिमय दर में गिरावट के कारण सोने का आयात महंगा होने से भी इसमें तेजी का रख रहा.

 

वैश्विक बाजार में भी सोने के भाव घरेलू बाजार के अनुसार तेज रहे. सिंगापुर में सोने का भाव 0.6 फीसद बढ़कर 1,228.51 डालर प्रति औंस पर पहुंच गया, जबकि चांदी का भाव 0.8 फीसद बढ़कर 17.66 डालर प्रति औंस हो गया.

 

दिल्ली में सोना 99.9 और 99.5 कैरेट शुद्धता वाले सोने के भाव 590 रूपये उछलकर क्रमश: 27,550 और 27,350 रूपये प्रति 10 ग्राम दर्ज किया गया. सोने का सिक्का भी 24,200 रूपये प्रति 8 ग्राम पर पहुंच गया. कल इसमें 250 रूपये की गिरावट दर्ज की गयी थी.

 

इसी प्रकार चांदी तैयार 550 रूपये बढ़कर 39,900 रूपये प्रति किलो और सप्ताहिक डिलीवरी वाली चांदी का भाव 685 रूपये बढ़कर 39,540 रूपये प्रति किलो पर पहुंच गया. कल चांदी में 650 रूपये प्रति किलो की गिरावट दर्ज की गयी थी. चांदी सिक्का 69,000 रूपये लिवाल और 70,000 रूपये प्रति सैकड़ा पर बिकवाल रहे.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: gold-festival
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017