त्योहारी मौसम में यात्रियों के लिए अच्छी खबर: हवाई किराए हुए 38% तक सस्ते

त्योहारी मौसम में यात्रियों के लिए अच्छी खबर: हवाई किराए हुए 38% तक सस्ते

आम तौर पर त्योहारी मौसम में हवाई सफर की कीमतें आसमान छूती हुई नजर आती हैं. हालांकि इस दिवाली घरेलू मार्गों के हवाई किराये में गिरावट देखी गयी है.सभी विमानन कंपनियों द्वारा कम किराये के साथ उच्च क्षमता लगाने के कारण पूरे सीजन का कुल किराया घट गया है

By: | Updated: 13 Oct 2017 10:19 PM

नई दिल्ली: अगले सोमवार से त्योहारी हफ्ता शुरू हो रहा है और दिलचस्प बात ये है कि इस बार आखिरी समय हवाई किरायों में गिरावट देखी गई है. आमतौर पर त्योहारी मौसम में मांग में बढ़त के चलते हवाई यात्राओं का किराया बढ़ जाता है. हालांकि जानकारों का कहना है कि विमानन कंपनियों ने कुछ रूट्स पर क्षमता बढ़ा दी है जिसके कारण हवाई किरायों में गिरावट आई है. आम तौर पर त्योहारी मौसम में हवाई सफर की कीमतें आसमान छूती हुई नजर आती हैं. हालांकि इस दिवाली घरेलू मार्गों के हवाई किराये में गिरावट देखी गयी है.


GOOD NEWS: करीबन 38-32 फीसदी सस्ते हुए हैं हवाई किराए
ऑनलाइन यात्रा पोर्टल यात्राडॉटकॉम के द्वारा साझा किये आंकड़ों के मुताबिक, प्रमुख मार्गों जैसे दिल्ली-मुंबई और हैदराबाद-दिल्ली के किराये में क्रमश: 38 फीसदी और 32 फीसदी की गिरावट देखी गयी है. ऑनलाइन यात्रा सेवा देने वाले पोर्टल के मुताबिक दिवाली से पहले दिल्ली से मुंबई तक की उड़ानों के लिए किराया 2500 से 3000 रुपये के बीच शुरू होता है. इसी तरह चेन्नई से दिल्ली के बीच किराये की सीमा 4200 से 5000 रुपये के बीच है. हैदराबाद से दिल्ली के बीच किराया 4500 रुपये से लेकर 5500 रुपये तक है. हालांकि अब जब एयर फेयर में 38-32 फीसदी की कमी आई है तो ऑनलाइन हवाई टिकट बुक करने के ऑनलाइन पोर्टल मेक माई ट्रिप पर दिल्ली-मुंबई के किराए 2000 के दायरे में दिखाई दे रहे हैं.


क्लियर ट्रिप पर भी कम हैं किराए
क्लियर ट्रिप के प्रमुख (हवाई और वितरण) बालू रामचंद्रन ने कहा, "सभी विमानन कंपनियों द्वारा कम किराये के साथ उच्च क्षमता लगाने के कारण पूरे सीजन का कुल किराया घट गया है." कुछ क्षेत्रों जैसे दिल्ली-बेंगलुरु और मुंबई-गोवा के किरायों में क्रमश: 15 फीसदी और 19 फीसदी की वृद्धि देखी गयी है.


ज्यादातर पॉपुलर रूट्स पर घटे हैं किराए
यात्रा के मुख्य परिचालन अधिकारी (बीटूसी) शरत धल्ल ने कहा, "पॉपुलर रूट्स पर एयर ट्रैवलर्स के लिए क्षमता बढ़ाये जाने के कारण पिछले साल की तुलना में इस साल आखिरी मिनट के किराये में कमी देखी गयी है. हालांकि, उन मार्गों पर जहां हवाई कैपेसिटी में अहम बढ़ोतरी नहीं की गई है, वहां हवाई किराए अभी भी ऊंचे हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story देवरिया, मथुरा, दलसिंहसराय, गया जैसे 40 शहरों में अब खुलेंगे कॉल सेंटर