हाई कोर्ट ने नीरव मोदी की कंपनी से नीरव मोदी को वापस बुलाने को कहा | High court said to Nirav Modi company- bring him back

हाई कोर्ट ने नीरव मोदी की कंपनी से कहा 'भगोड़े नीरव मोदी को वापस बुलाओ'

पीठ ने फायरस्टार डायमंड और फायरस्टार इंटरनेशनल के वकील विजय अग्रवाल से कहा, ‘यदि हम तकनीकी पहलू पर जोर नहीं देते हैं तो मोदी को वापस आने को कहा जाए.'

By: | Updated: 11 Apr 2018 08:13 PM
High court said to Nirav Modi company- bring him back

नई दिल्लीः दिल्ली हाई कोर्ट ने आज हीरा कारोबारी नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार डायमंड से मोदी को वापस बुलाने को कहा. अदालत ने नीरव मोदी को भगोड़ा करार दिया. पीठ ने फायरस्टार डायमंड और फायरस्टार इंटरनेशनल के वकील विजय अग्रवाल से कहा, ‘यदि हम तकनीकी पहलू पर जोर नहीं देते हैं तो मोदी को वापस आने को कहा जाए.' नीरव मोदी के भारतीय एजेंसियों या अदालतों के समक्ष नहीं आने के बयान पर गंभीर चिंता जताते हुए बेंच ने कहा , ‘प्रवर्तन निदेशालय के अनुसार हम एक भगोड़े से निपट रहे हैं. ’’


जस्टिस एस मुरलीधर और जस्टिस आई एस मेहता की पीठ ने यह आदेश पारित किया. इससे पहले कंपनी के वकील ने कहा कि उसे इस तकनीकी आधार पर राहत से वंचित नहीं किया जाना चाहिए कि फायरस्टार इंटरनेशनल ने अपनी सब्सिडियरी फायरस्टार डायमंड को याचिकाएं दायर करने को अधिकृत किया है.


प्रवर्तन निदेशालय ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के 11,000 करोड़ रुपये से अधिक के घोटाले में कंपनी की प्रॉपर्टी पर छापेमारी और जब्ती की कार्रवाई की है.


ईडी की ओर मौजूद अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल संदीप सेठी और केंद्र सरकार के स्थायी वकील अमित महाजन ने कहा कि दोनों कंपनियों को कोई राहत नहीं दी जानी चाहिए क्योंकि मोदी न्याय से भगोड़ा है. वह भागा हुआ और जांच में शामिल नहीं हो रहा है.


पीठ ने कहा कि ईडी की इस दलील में दम है कि नीरव मोदी यहां एजेंसियों के समक्ष पेश नहीं हो रहा है ऐसे में उसकी कंपनियों को विवेकाधीन राहत नहीं दी जा सकती.


पीठ ने यह निष्कर्ष मोदी और मेहुल चोकसी की कंपनियों की याचिका पर सुनवाई के दौरान दिया. इन कंपनियों ने उनके खिलाफ मनी लांड्रिंग रोधक कानून (पीएमएलए) के विभिन्न प्रावधानों के तहत कार्रवाई को चुनौती दी थी. अदालत ने इस मामले की सुनवाई की अगली तारीख तीन मई तय की है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: High court said to Nirav Modi company- bring him back
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज़, फोन बिल जैसे रीइंबर्समेंट पर नहीं लगेगा GST