करोड़पति कर्मचारियों के मामले में इन्फोसिस से आगे है HUL

By: | Last Updated: Tuesday, 21 July 2015 6:55 AM
HUL Trumps Infosys When it Comes to Crorepati Employees

नई दिल्ली: इन दिनों इंडिया में भले ही हिंदुस्तान युनिलीवर के प्रॉडक्ट्स की मांग में कमी आई हो और उसका ग्रोथ पहले की अपेक्षा स्लो हो रहा हो लेकिन इन सभी के बावजूद इसने आईटी सेक्टर की देश की प्रमुख कंपनी इन्फोसिस को एक मामले में पीछे छोड़ दिया है.

 

जी हां! एक एनुअल रिपोर्ट के मुताबिक जल्दी बिकने वाले कंज्यूमर प्रॉडक्ट्स यानि एफएमसीजी बनाने वाली भारत की सबसे बड़ी कंपनी हिंदुस्तान युनिलीवर सबसे ज्यादा सैलरी देने वाली कंपनियों में से एक है.

 

इस रिपोर्ट के अनुसार भारत की दूसरी सबसे बड़ी आउटसोर्सर इंफोसिस की तुलना में हिंदुस्तान युनिलीवर में करोड़पति कर्मचारियों की संख्या अधिक है जो सालाना एक करोड़ से भी ज्यादा की तनख्वाह पाते हैं.

 

HUL की 2014-15 की एनुअल रिपोर्ट के मुताबिक हिंदुस्तान युनिलीवर में करीब 170 कर्मचारी ऐसे हैं जिनकी ओवरऑल एनुअल सैलरी एक करोड़ से भी ज्यादा है. जबकि इंफोसिस के पास ऐसे केवल 113 लोग हैं.

 

आपको बता दें कि HUL की इस लिस्ट में सबसे ऊपर नाम 54 साल के संजीव मेहता का आता है जो कंपनी के सीईओ और एमडी हैं. स्टॉक ऑपश्न्स आदि को मिलाकर इनकी तनख्वाह 14 करोड़ से भी ऊपर है.

 

जानकारों का कहना है कि इस तरह भारी वेतन देने का मकसद साफ तौर पर योग्य लोगों को कंपनी में बनाए रखना है, ख़ासतौर पर तब जब युवाओं में  खुद का कारोबार शुरु करने का चलन बढ़ता जा रहा है.

गौरतलब है कि एचयुएल, एंग्लो-डच कंज़्युमर ग्रुप युनिलीवर की सहायक कंपनी है जो रोज़मर्रा के सामान जैसे लक्स साबुन, लिप्टन चाय और डव शैम्पू जैसे उत्पाद बनाती है जो देश भर में किराने की दुकान और बड़ी रिटेल शॉप पर बेचे जाते हैं.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: HUL Trumps Infosys When it Comes to Crorepati Employees
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017