देश में इनके पास हैं सबसे ज्यादा एंप्लाई, यहां हैं सबसे ज्यादा महिला एंप्लाई

देश में इनके पास हैं सबसे ज्यादा एंप्लाई, यहां हैं सबसे ज्यादा महिला एंप्लाई

CLSA ने वित्त वर्ष 2017 की रिपोर्ट में भारत की 76 कंपनियों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां सार्वजनिक की है. ये कंपनियां सालाना 1 ट्रिलियन का बाजार खड़ा करती हैं. जिसके हिसाब से ऑनलाइन खरीदारी और बिलिंग की ओर लोगों का रुझान बढ़ा हैं.

By: | Updated: 06 Sep 2017 10:58 PM

नई दिल्लीः सीएलएसए (CLSA) ने भारत की कंपनियों को लेकर रिपोर्ट निकाली है जिसमें देश की कंपनियों के बारे में कई हैरान करने वाली जानकारी दी गई है. इकनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के अनुसार CLSA ने वित्त वर्ष 2017 की रिपोर्ट में भारत की 76 कंपनियों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां सार्वजनिक की है. ये कंपनियां सालाना 1 ट्रिलियन का बाजार खड़ा करती हैं. जिसके हिसाब से ऑनलाइन खरीदारी और बिलिंग की ओर लोगों का रुझान बढ़ा हैं.


टीसीएस और कोका कोला इंडिया के पास सबसे ज्यादा कर्मचारी
भारत में टीसीएस और कोका कोला इंडिया ही दो ऐसी कंपनियां है. जिनके कर्मचारियों की संख्या 3 लाख से ज्यादा है. यह जानकारी CLSA की रिपोर्ट में सामने आई है.


इंडस्ट्री के कुल 40 फीसदी कर्मचारी दो ही सेक्टर में हैं
रिपोर्ट के मुताबिक 40 फीसदी कर्मचारी इन 76 कंपनियों में से सिर्फ फाइनेंस और टेक्नोलॉजी से ही जुड़े हुए हैं.


सबसे ज्यादा महिला कर्मचारी
टीसीएस कंपनी के पास सबसे ज्यादा महिला कर्मचारी है. कंपनी में 34 फीसदी महिलाएं हैं.


इन बैंकों में कर्मचारियों की संख्या 5 फीसदी बढ़े
कैनरा बैंक, सिंडिकेट बैंक, विजया बैंक में इस साल 5 फीसदी कर्मचारी बढ़े हैं.


ऑनलाइन शॉपिंग का ट्रेंड बढ़ा, कुल बिक्री में 9% कपड़ों की सेल ऑनलाइन
इस साल 9 फीसदी कपड़ों की सेलिंग ऑनलाइन हुई है. साथ ही देश की इकोनॉमी में 30 फीसदी योगदान कपड़ों की सेलिंग का है.


कुल मूवी टिकटों की बुकिंग में 26% टिकटों की ऑनलाइन बुकिंग
वहीं बात की जाए पीवीआर की तो वित्त वर्ष 2015 में कुल मूवी टिकटों में से 26 फीसदी टिकिट ऑनलाइन बुक हुए थे. वित्त वर्ष 2017 में इनका हिस्सा बढ़कर 45 फीसदी हो गया है. यानी 2 साल में ही मूवी टिकटों की ऑनलाइन बुकिंग में 19 फीसदी का इजाफा हुआ है. और फिलहाल देश के कुल टिकटों में से
करीबन आधे टिकिट ऑनलाइन ही बुक हो रहे हैं.


इलेक्ट्रिसिटी बिल ऑनलाइन तरीके से भरने वालों की संख्या में हुआ भारी इजाफा
CESC के मुताबिक ऑनलाइन इलेक्ट्रसिटी बिल भरने वालों की संख्या में इजाफा हुआ है. पिछले साल तक बिजली बिलों का ऑनलाइन पेमेंट सिर्फ 17.2 फीसदी होता था. जबकि अब ऑनलाइन पेमेंट से 28.5 फीसदी बिजली बिल भरे जा रहे हैं.


एक्सिस बैंक के आशा लोन में बढ़ोत्तरी
एक्सिस बैंक की लो-इंकम हाउसिंग लोन आशा लोन में भी भारी उछल आया है. वित्त वर्ष 2017 में एक्सिस बैंक के आशा लोनस में 66 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है. जो कि 31 बिलियन हैं.


महिंद्रा एंड महिंद्रा में घटी है सैलेरी
FY17 में लगभग सभी कंपनियों ने अपने कर्मचारियों की सैलेरी बढ़ाई है. लेकिन M&M में सैलेरी में कर्मचारियों को 1.5 फीसदी तक का नुकसान हुआ है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story महज 312 रुपये में करें हवाई सफर, GoAir दे रहा है भारी छूट